गाजीपुर, जागरण संवाददाता। माफिया मुख्तार अंसारी के खिलाफ गैंगस्टर मामले में पूर्व विधायक अजय राय की गवाही पर बुधवार को होने वाली जिरह टाल दी गई है। मुख्तार अंसारी के खिलाफ गैंगस्टर मामले की सुनवाई अपर सत्र न्यायाधीश प्रथम/एमपी-एमएलए रामसुध सिंह की अदालत में चल रही है।

दरअसल, अवधेश राय हत्याकांड में वाराणसी कोर्ट में भी सुनवाई होने से पूर्व विधायक ने गाजीपुर कोर्ट से दूसरी तारीख पर जिरह की मांग की है। कोर्ट से दूसरी तारीख तय की जाएगी। दरअसल अवधेश राय की हत्‍या के मामले में बीते दिनों 16 मई को कोर्ट में अजय राय ने अपनी गवाही दर्ज कराई थी। वाराणसी के कोर्ट में मुकदमे की सुनवाई के चलते पूर्व विधायक अजय राय गाजीपुर नहीं आ सके। अब अदालत की ओर से इस इस मामले में नई तारीख मिलेगी।

वर्ष 1996 में गाजीपुर के शहर कोतवाली में मुख्तार अंसारी के विरुद्ध गैंगस्टर के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया था। गैंगस्टर में तीन अगस्त 1991 को वाराणसी के लहुराबीर आवास के गेट पर अवधेश राय के ऊपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर उनकी हत्या करने का भी मुकदमा शामिल है। इस मामले में उनके भाई व पूर्व विधायक अजय राय ने मुख्तार अंसारी सहित अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इस मामले में अजय राय की अदालत में गवाही की कार्रवाई चल रही थी। इस बीच इलाहाबाद स्थित एमपी-एमएलए कोर्ट में मुकदमा स्थानांतरित हो गया था।

बाद में हाईकोर्ट के आदेश पर उक्त मुकदमे की सुनवाई पुन: स्थानीय विशेष न्यायाधीश (एमपी-एमएलए) की अदालत में शुरू की गई है। 16 मई को अजय राय की अपर सत्र न्यायाधीश प्रथम/एमपी-एमएलए रामसुध सिंह के न्यायालय में गवाही हुई थी, लेकिन अधिवक्ताओं की हड़ताल के कारण उस दिन जिरह नहीं हो सकी थी। बुधवार को जिरह की तिथि निर्धारित की गई थी, लेकिन आज के ही दिन अवधेश राय हत्या प्रकरण में वाराणसी कोर्ट में भी सुनवाई होने के कारण गवाह अजय राय ने दूसरी तिथि की मांग की।

Edited By: Abhishek Sharma