वाराणसी, जेएनएन। लोक समिति के तत्वावधान में प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम नागेपुर में  स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर युवा दिवस मनाया गया। इस अवसर पर युवाओं ने स्वामी विवेकानंद के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित कर देश सेवा का संकल्प लिया। इस मौके पर छात्रों ने देशभक्ति पूर्ण रचनाएं प्रस्तुत कीं। लोक समिति आश्रम में आयोजित कार्याक्रम में लोक समिति संयोजक नन्दलाल मास्टर ने कहा कि युवा स्वस्थ होगा तो देश भी स्वस्थ होगा।

कहा कि देश को स्वस्थ बनाने के लिए युवाओं को नशा, अनुशासन हीनता व सामाजिक बुराइयों से दूर रहना होगा। हमें भयमुक्त, भ्रष्टाचार मुक्त, आतंकवाद मुक्त व विज्ञान, कृषि, कला, खेल सम्पन्न करने के लिए स्वामी विवेकानंद के मार्ग पर चलना होगा। इस अवसर पर युवाओं ने खुलकर अपने अपने विचार रखे और कहा कि पूरे विश्व में भारत को युवाओं का देश कहा जाता है। अपने देश में 35 वर्ष की आयु तक के 65 करोड़ युवा हैं। अर्थात् हमारे देश में अथाह श्रमशक्ति उपलब्ध है।

आवश्यकता है आज हमारे देश की युवा शक्ति को उचित मार्ग दर्शन देकर उन्हें देश की उन्नति में भागीदार बनाने की, उनमे अच्छे संस्कार, उचित शिक्षा एवं प्रोद्यौगिक विशेषज्ञ बनाने की, उन्हें बुरी आदतों जैसे- नशा, जुआ, हिंसा इत्यादि से बचाने की। क्योंकि चरित्र निर्माण ही देश की, समाज की, उन्नति के लिए आवश्यक है। दुश्चरित्र युवा न तो अपना भला कर सकता है, न समाज का और न ही अपने देश का। देश के निर्माण के लिए, देश की उन्नति के लिए, देश को विश्व के विकसित राष्ट्रों की पंक्ति में खड़ा करने के लिए युवा वर्ग को ही मेधावी, श्रमशील, देश भक्त और समाज सेवा की भावना से ओत प्रोत होना होगा। कार्यक्रम में मुख्य रूप से नन्दलाल मास्टर अमित रामबचन पंचमुखी विद्या सुनील अनीता समा बानो रोहित मोहन ज्वाला आलोक सरिता सीमा मधुबाला मनजीता सुरेश  आदि लोग शामिल रहे। संचालन रामबचन ने किया।

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप