गाजीपुर, जेएनएन। शिया समुदाय के धर्म गुरु को नायब दरोगा द्वारा कथित तौर पर आतंकवादी कहे जाने पर बुधवार को चावनपुरगनी गांव के शिया समुदाय के लोग भड़क उठे। कोतवाली पहुंचकर न सिर्फ हंगामा मचाया बल्कि दरोगा से कहासुनी के साथ हाथापाई व गाली गलौज भी की। विवेक का परिचय दिखाते हुए कोतवाल व अन्य पुलिस कर्मियों ने किसी तरह बीच-बचाव कर लोगों को शांत कराया। 
 गांव में शिया समुदाय की संख्या अन्य जगहों की अपेक्षा अधिक है। मोहर्रम का पर्व मनाने के लिए उन्होंने गली-मोहल्लों व अपने घरों के बाहर अपने धर्म गुरु ईरान के का पोस्टर लगा रखा था। आरोप है कि कोतवाली में तैनात नायब दरोगा संदीप दुबे इसे देख आतंकवादी हाफिज सईद की फोटो बताकर हटाने को बोले। इससे शिया समुदाय के लोग भड़क उठे। मौके की नजाकत को भांपते हुए वह वहां से निकल लिए। ऐसे में लगभग सौ लोगों की संख्या में इस समुदाय के आक्रोशित लोग कोतवाली में धमक गए। इस दौरान नायब दरोगा को देख उग्र हो गए। कहासुनी के साथ हाथापाई और मारपीट तक करने लगे। तब-तक कोतवाल बलवान ङ्क्षसह भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने उग्र लोगों को समझा-बुझाकर मामला शांत कराया। इधर, कोतवाली पहुंचे सीओ महमूद अली ने समुदाय के लोगों को बात करने के साथ समझाकर मामला रफा-दफा कराया।

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप