वाराणसी, जेएनएन। दैनिक जागरण और आइएमएस साइंस विजार्ड एग्जाम को लेकर शनिवार को विद्यार्थियों में गजब का उत्साह रहा। परीक्षा के माध्यम से इंटरमीडिएट के विद्यार्थियों को प्रतिभा दिखाने का मौका मिला तो इंजीनियरिंग की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों को भी एग्जाम राह दिखाने में सफल रहा। दैनिक जागरण, गाजियाबाद स्थित आइएमएस इंजीनियरिंग कालेज के संयुक्त तत्वावधान में गुरुनानक इंग्लिश स्कूल शिवपुर में आयोजित साइंस विजार्ड एग्जाम में विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़ कर प्रतिभाग किया। इस दौरान विद्यालय में अध्ययनरत इंटरमीडिएट के सभी विद्यार्थी परीक्षा में शामिल होने के लिए लालायित दिखे। परीक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री व मैथ से सवाल पूछे गए थे। फिजिक्स, केमिस्ट्री व मैथ से 15-15 सवाल थे। सभी प्रश्न एक-एक अंक के थे। विद्यार्थियों को एक घंटे में 45 बहुविकल्पी सवालों का उत्तर ओएमआर शीट पर देना था।

पर्यवेक्षक संग सीसीटीवी से निगरानी

इसमें कई विद्यार्थी निर्धारित समय से 15 मिनट पहले ही सभी सवाल हल करने में सफल रहे। हालांकि, विद्यार्थियों को परीक्षा खत्म होने के बाद साथ जाने की अनुमति दी गई। परीक्षा की पवित्रता बनाए रखने के लिए पर्यवेक्षक तैनात किए गए थे। इसके अलावा दो-दो शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई थी। परीक्षार्थियों पर सीसीटीवी कैमरे का भी पहरा था। हालांकि विद्यार्थियों ने पूरी ईमानदारी से परीक्षा दी। - मनोबल बढ़ाने में सहायक परीक्षा का मुख्य उद्देश्य विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में जुटे विद्यार्थियों को आकलन कराना है। दरअसल इस तरह की प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने से छात्रों व छात्राओं को तैयारी का पता चलता है। इसके आधार पर वह कमियों को पहचान कर समय रहते दूर करने में सफल होते हैं। इससे उनका मनोबल बढ़ता है और मुख्य परीक्षा में कामयाबी मिलनी तय रहती है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस