वाराणसी, जेएनएन। बीएचयू के सर सुंदरलाल चिकित्सालय में चल रही रेजिडेंट्स की हड़ताल रविवार को समाप्त हो गई। सुरक्षा समेत कई अन्य मांगों को लेकर रेजिडेंट सात दिनों से हड़ताल पर चल रहे थे। बीएचयू प्रशासन की ओर से सुरक्षा संबंधी मांग को मान लिए जाने के बाद रेजिडेंट काम पर लौट आए। तीन नवंबर को अज्ञात हमलावरों ने अस्पताल में ही दो रेजिडेंट संग मारपीट की थी। इससे आक्रोशित रेजिडेंट आरोपितों की गिरफ्तारी के साथ ही समुचित सुरक्षा व्यवस्था की मांग करते हुए हड़ताल पर चले गए थे। हालांकि बुधवार को पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया था।

बावजूद इसके रेजिडेंट्स पर्याप्त सुरक्षा की मांग पर अड़े रहे। विवि प्रशासन पर दबाव बनाने के क्रम में शनिवार से उन्होंने आइसीयू व एसीयू एवं रविवार की सुबह से इमरजेंसी वार्ड में सेवाएं प्रभावित की। इससे दूर-दराज से आने वाले मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा। विवि प्रशासन लगातार अपील करता रहा मगर रेजिडेंट जिद पर अड़े रहे। मजबूर शनिवार को सभी विभागाध्यक्षों की बैठक बुलाई गई। इसमें रविवार के बाद हड़ताल जारी रहने पर रेजिडेंट पर सख्त कार्रवाई की तैयारी कर ली गई थी। इसकी जानकारी होने पर रेजिडेंट ने रविवार देर रात बैठक कर तत्काल प्रभाव से हड़ताल वापस लेने का निर्णय लिया।

मुख्य बातें

-प्रशासन से आश्वासन मिलने पर देर रात बैठक में लिया गया निर्णय

- स्थिति सामान्य की ओर लौटने लगी, मरीजों को राहत

-तीन नवंबर को अज्ञात हमलावरों ने अस्पताल में ही दो रेजिडेंट संग की थी मारपीट

-आक्रोशित रेजिडेंट आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए हड़ताल पर चले गए थे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप