वाराणसी, जेएनएन। छात्रसंघ चुनाव को लेकर संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में गहमागहमी बढ़ गई है। हालांकि प्रचार-प्रसार को लेकर तमाम प्रत्याशी अब असमंजस की स्थिति में हैं। इसके पीछे कारण यह है कि तमाम छात्रों ने एक से अधिक पदों पर नामांकन किया है, जबकि उन्हें चुनाव किसी एक पद पर लडऩा है। कुछ छात्र अब तक यह नहीं तय कर सके हैं कि उन्हें किस पद पर चुनाव लडऩा है। अब भी चुनाव में अपनी स्थिति का आंकलन करने में जुटे हुए हैं। ऐसे में छात्रों को नाम वापसी के लिए छह जनवरी का इंतजार है।

छात्रसंघ के विभिन्न पदों के लिए 89 छात्रों ने पर्चा दाखिल किया। इसमें छात्रसंघ अध्यक्ष सहित चार प्रमुख पदों के लिए 76 प्रत्याशी शामिल हैं। 30 दिसंबर को नामांकन करने वाले वैध प्रत्याशियों की सूची पांच जनवरी को दोपहर 12 बजे तक जारी की जाएगी।  वहीं नाम वापसी छह जनवरी को सुबह दस बजे से दोपहर एक बजे तक की जा सकती है, जबकि मतदान आठ जनवरी को सुबह नौ बजे से दोपहर दो बजे तक होगा। चुनाव के एक दिन पहले परिसर में प्रचार-प्रसार पर रोक लगा दिया जाएगा। ऐसे में नामवापसी के बाद परिसर में प्रचार-प्रसार करने के लिए प्रत्याशियों को समय ही नहीं मिलेगा। इसे देखते कुछ प्रत्याशियों ने प्रचार-प्रसार शुरू कर दिया है। वहीं ज्यादातर छात्रों को वैध-अवैध प्रत्याशियों की सूची का इंतजार है। सूची जारी होने के बाद छात्रसंघ के किसी एक पद पर चुनाव लडऩे का फैसला लेंगे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021