वाराणसी, जेएनएन। कोविड-19 के अंतर्गत रविवार से जनपद में घर-घर टीमों के माध्यम से ‘‘विशेष सर्विलांस अभियान‘‘ प्रारंभ किया गया। यह अभियान 15 जुलाई, 2020 तक चलेगा। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि इस अभियान में गठित टीमों, जिसमें आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्री हैं, के माध्यम से घर-घर जाकर आम जनमानस के संवेदीकरण तथा सर्वेक्षण की गतिविधियां की जा रही हैं। गठित टीमें प्रत्येक घर में व्यक्ति के बुखार, खांसी और सांस लेने में परेशानी जैसे लक्षणों का सर्वे करेगी। साथ ही टीम उन व्यक्तियों जो लंबे अवधि से शुगर, ब्लड प्रेशर, कैंसर, हृदय रोग, गुर्दा रोग इत्यादि बीमारियों से ग्रसित हैं, का भी सर्वे करेगी। 

सर्वे करने वाली टीमों काे पूर्ण सहयोग करें, जानकारी छिपाएं नहीं

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने आम जनता से अपील की है कि सर्वे करने वाली टीमों को पूर्ण सहयोग प्रदान करें और घर के सभी व्यक्तियों की सही-सही जानकारी प्रदान करें ताकि बढ़ते हुए संक्रमण को रोका जा सके तथा संक्रमित व्यक्तियों का समय से इलाज किया जा सके। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को पूर्ण सक्रियता से कार्य करने एवं कोरोना लक्षण वाले व्यक्तियों की तत्काल जांच कराते हुए उन्हे समय से स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने अन्य विभागों यथा पंचायती राज, आइसीडीएस, सिविल डिफेंस, नगर निकाय, वन विभाग, कृषि विभाग के साथ-साथ एनसीसी, एनएसएस तथा अन्य प्रमुख गैर सरकारी संगठनों को अपना पूर्ण सहयोग देते हुए अपने फ्रंटलाईन वर्कर्स एवं स्वयंसेवियों के माध्यम से जनसमुदाय को कोरोना संक्रमण से बचाव के प्रति जागरूकता तथा सर्वेक्षण कार्य में सहयोग के लिए निर्देशित किया।

1265 से अधिक टीमों के माध्यम से चलाया जा रहा विशेष अभियान

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. वीबी सिंह ने बताया कि जनपद में 1265 से अधिक टीमों के माध्यम से विशेष सर्विलांस अभियान चलाया जा रहा है। इन टीमों को पर्यवेक्षण करने के लिए 300 पर्यवेक्षकों को लगाया गया है, साथही जनपदस्तरीय पर्यवेक्षक सभी ब्लाकों एवं शहरी क्षेत्र के लिए लगाये गए हैं। इस अभियान के लिए डा. वीएस राय, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी को नोडल अधिकारी नामित किया गया है।

टीम के सदस्यों के मास्क, ग्लब्स व सैनिटाइजर उपलब्‍ध कराया गया

जनपद स्तरीय पर्यवेक्षक एवं ब्लाक प्रभारी अपने ब्लाक में सर्वे कार्य को सुचारू रूप से कराएंगे तथा सायंकालीन बैठक करके क्षेत्र का फीडबैक प्राप्त करते हुए एवं संक्रमण के लक्षण पाए जाने वाले व्यक्तियों की लाइन लिस्टिंग करते हुए आवश्यकतानुसार सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अथवा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अथवा जिला स्तरीय चिकित्सालय यथा श्रीशिवप्रसाद गुप्त मण्डलीय जिला चिकित्सालय कबीरचौरा, लाल बहादुर शास्त्री चिकित्सालय रामनगर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिवपुर एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चौकाघाट को संदर्भित करते हुए आवश्यकतानुसार जांच एवं इलाज कराएंगे। अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (भंडार) डा. संजय राय ने बताया कि केंद्रीय ओैषधि भंडार से प्रत्येक टीम को क्षेत्र में व्यक्तियों का ऑक्सीजन स्तर, पल्स स्तर एवं तापमान स्तर मापने के लिए पल्स ऑक्सीमीटर एवं इन्फ्रारेड थर्मामीटर दिया गया है। साथ ही टीम के सदस्यों के स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए मास्क, ग्लब्स एवं सैनिटाइजर दिए गए हैं।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस