मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

सोनभद्र, जेएनएन। भूमि प्रबंधक समिति मूर्तिया की बैठक शनिवार को उभ्भा गांव स्थित प्राथमिक विद्यालय परिसर में हुई। इसमें पुलिस चौकी के लिए जमीन देने का प्रस्ताव करते हुए उसे पास किया गया। सभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास किया कि निर्धारित स्थान पर पुलिस चौकी के नाम जमीन दी जाए।

 भूमि प्रबंध समिति के वरिष्ठ सदस्य कालीचरन की अध्यक्षता व प्रशासनिक समिति के सदस्य दीप नारायन व गया की उपस्थिति में बैठक हुई।

इसमें सबसे पहले कोरम पूरा किया गया। शासन की मंशा के अनुसार प्रशासनिक समिति के सदस्यों द्वारा प्रस्ताव किया गया कि ग्राम उभ्भा की आराजी संख्या 103/27 रकबा 0.126 हेक्टेयर भूमि पुलिस चौकी के लिए पुनग्र्रहण कर आरक्षित किया जाए। उक्त प्रस्ताव का समर्थन उपस्थिति ग्रामीणों द्वारा सर्वसम्मति से किया गया। बैठक में दीप नारायण, रामराज ङ्क्षसह, जगरनाथ आदि मौजूद थे।

बता दें कि 17 जुलाई को उभ्भा गांव में भूमि को कब्जा करने के चक्कर में नरसंहार हो गया था। उसमें दस लोग मारे गए और 28 लोग घायल हुए थे। घटना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंभीरता से लिया और बड़ी कार्रवाई की। साथ ही जिले में आकर उभ्भा के पीड़तिों से मिले। उसी समय उभ्भा में पुलिस चौकी बनाने की घोषणा की थी। उसी क्रम में आगे कार्य हो रहा है। सीएम ने जिले में दो नए ब्लाक, एक नई तहसील, घोरावल में अग्निशमन केंद्र बनाने के लिए कहा था। सीएम की घोषणा के क्रम में उभ्भा में अस्थाई पुलिस चौकी बना भी दी गई है। वहां एक उपनिरीक्षक के साथ ही छह पुलिस र्किमयों की टीम भी तैनात है। 

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Saurabh Chakravarty

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप