आजमगढ़, जेएनएन। गंभीरपुर थाना क्षेत्र के खराटी गांव में 45 वर्षीय दामाद को घर बुलाकर ससुराल पक्ष के लोगों ने उसे सीकड़ से बांधने के बाद पंद्रह दिनों तक घर में बंधक बनाकर रखा। ससुराल वालों के बंधन से किसी तरह भागकर वह गुरुवार को मोहम्मदपुर बाजार पहुंचा। पीड़ति व्यक्ति ने अपनी पत्नी, सास, साले व अन्य तीन लोगों के खिलाफ गंभीरपुर थाने में तहरीर दी। पीड़ति की तहरीर पर पुलिस ने घटना की छानबीन शुरू कर दी है।

शहर कोतवाली क्षेत्र के सलेमपुर गांव निवासी अमरनाथ चौहान पुत्र छोटेलाल चौहान की शादी खराटी गांव निवासी कन्हैया लाल चौहान की पुत्री रंजना से हुई है।

अमरनाथ ने तीन वर्ष पूर्व 1 करोड़ 70 लाख रुपये में अपनी भूमि बेची थी। उससे मिले रुपये से उसने अपनी पत्नी के नाम से डस्टर कार, पिकअप, अपाची बाइक, जेनरेटर व तीन सेट डीजे खरीदा। उनमें से 13 लाख रुपये उसने अपने नाम से बैंक में फिक्स डिपाजिट किया था। शेष बचे रुपये अपने पास रखा हुआ था। स्वजनों का कहना है कि शराब का आदी होने के चलते अमरनाथ ने अपने पास रखे रुपये धीरे-धीरे कर खर्च कर डाला। इधर मायके में अपने दो बेटों के साथ रह रही उसकी पत्नी ने भी कार समेत अन्य सामानों को भी आधे दाम पर कुछ दिनों बाद बेच दिया था। पत्नी व ससुराल के लोगों को आशंका थी कि कहीं अमरनाथ बैंक में जमा रुपये भी निकाल कर खर्च न कर दे। इस आशंका के चलते उसकी ससुराल के लोगों ने फोन कर चार दिसंबर को अमरनाथ को बुलाया। अमरनाथ का आरोप है कि वह जब ससुराल पहुंचा तो ससुराल के लोग उसे मारने पीटने के बाद लोहे के सीकड़ से बांध दिया और हाथ-पैर में बेड़यिां डाल दी। सीकड़ से बांधने के बाद उसे घर के अंदर एक कमरे में ले जाकर बंद कर दिया। पंद्रह दिन से वह ससुराल में बंधक बनाकर रखा गया था। गुरुवार को सुबह किसी तरह से मौका पाकर वह भागकर मोहम्मदपुर बाजार स्थित एक ढाबा पर पहुंचा। लोगों से उसने अपनी आपबीती बताई। खबर पाकर गंभीरपुर थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और ङ्क्षबद्राबाजार से एक लोहार को बुलाकर हाथ-पैर में बंधा सीकड़ व बेड़यिों को कटवाने के बाद उसे बंधन से मुक्त कराया। पीड़ति व्यक्ति ने इस संबंध में अपनी पत्नी रंजना, सास प्रमिला देवी, साला कृपाशंकर के अलावा तीन अन्य अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी है।

इस बारे में एसपी सिटी पंकज कुमार पांडेय ने कहा कि किसी व्यक्ति को सीकड़ से बांधकर उसे बंधक बनाने का मामला काफी गंभीर है। यह मामला मेरे भी संज्ञान में आया है। गंभीरपुर थाना के प्रभारी इंस्पेक्टर को मुकदमा दर्ज कर आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। साथ ही पीड़ति व्यक्ति का मेडिकल व इलाज कराने का भी आदेश दिया है।

 

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस