आजमगढ़ [अनिल मिश्र]। लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 में सेवायोजित (सर्विस)वोटरों को इलेक्ट्रानिक ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट सिस्टम (ईटीपीबीएस) से मतदान की सुविधा प्रदान की जाएगी। इसके पहले पिछले विधानसभा चुनाव में पॉयलेट प्रोजेक्ट के तौर पर प्रदेश के चार जिलों में इस प्रक्रिया को अपनाया गया था। अब आगामी लोकसभा चुनाव में भी यह प्रक्रिया अपनाई जाएगी। भारत निर्वाचन आयोग इस पर विशेष सतर्कता बरत रहा है। वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम राज्य निर्वाचन आयोग के मास्टर ट्रेनरों ने पूरे प्रदेश में चुनाव कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया गया। निर्देशित किया गया है कि सर्विस मतदाताओं की सूची अपडेट कर ली जाए।क्योंकि ईटीपीबीएस प्रक्रिया के क्रियान्वयन के लिए भारत निर्वाचन आयोग का निर्देश मिलते ही किसी प्रकार की परेशानी न हो।

तैयारी में जुटा निर्वाचन विभाग : उप जिला निर्वाचन अधिकारी/ अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेंद्र ¨सह ने बताया कि सर्विस मतदाताओं को इलेक्ट्रानिकली मतपत्र भेजे जाने के संबंध में राज्य निर्वाचन आयोग के मास्ट्रर ट्रेनरों द्वारा वीडियो कांफ्रें¨सग के माध्यम से दिए गए प्रशिक्षण में पूरी तैयारी करने के संबंध में बताया गया है। भारत निर्वाचन आयोग का निर्देश मिलते ही इस प्रक्रिया का क्रियान्वयन शुरू कर दिया जाएगा। बहरहाल, अभी सर्विस मतदाताओं की सूची का अंतिम प्रकाशन 22 फरवरी को किया जाएगा। निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार तैयारी पूरी रहेगी।

आरओ व एआरओ को मिलेगी यूजर आईडी : निर्वाचन आयोग द्वारा ईटीपीबीएस से मतदान के लिए आरओ और एआरओ को यूजर आईडी उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए सभी विवरण आयोग को आनलाइन उपलब्ध कराया जाएगा। अभी जिले में कुल 6580 सर्विस वोटर चिह्नित हैं जिनकी सत्यापन के बाद स्थिति स्पष्ट होगी और अंतिम प्रकाशन के बाद निर्वाचक नामावली में नाम शामिल किया जाएगा।

ऐसे तैयार होगा इलेक्ट्रानिक मतपत्र : उम्मीदवारी का निर्णय होने के बाद इलेक्ट्रानिकली मतपत्र फार्म-सात 'ए' के अनुरूप तैयार किया जाएगा। इस पर सभी उम्मीदवारों का नाम, फोटो एवं चुनाव चिह्न अंकित रहेगा। साथ ही अन्य प्रकार के आवश्यक लगभग 12 प्रपत्र संलग्न कर आनलाइन सर्विस मतदाताओ को प्रेषित किए जाएंगे। संबंधित मतदाता अपना मत अंकित कर डाक से भेजेगा। इस विधि से मतपत्र सर्विस मतदाता तक कम समय में पहुंचाए जा सकेंगे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप