वाराणसी, जेएनएन। कांग्रेस महासचिव व उप्र पूर्वी जोन की प्रभारी प्रियंका गांधी के आगमन को देखते हुए स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) के अधिकारियों ने बनारस में डेरा डाल लिया है। उन्होंने पहले दिन रविवार को अस्सी घाट, दशाश्वमेध घाट, श्रीकाशी विश्वनाथ दरबार, शूलटंकेश्वर महादेव मंदिर आदि का सड़क मार्ग से जायजा लिया। एसपीजी 18 मार्च को गंगा के रास्ते तय प्रियंका के आगमन कार्यक्रम के मद्देनजर रिहर्सल भी करेगी। काशी आने के बाद प्रियंका गांधी श्रीकाशी विश्वनाथ दरबार में दर्शन-पूजन को जाएंगी। इसके मद्देनजर एसपीजी के अधिकारियों ने दिन में वहां मौका-मुआयना किया। इस दौरान बाबा दरबार की सुरक्षा में बंदूक ताने खड़े सुरक्षाकर्मियों पर एसपीजी अधिकारियों का खास फोकस रहा। उनका कहना था कि प्रियंका गांधी के आगमन के दौरान सुरक्षा कर्मियों की बंदूकें तनी न रहें। सुरक्षा कर्मी बंदूकों को ऐसे रखें कि किसी प्रकार के जोखिम या हादसे की आशंका न रहे।

गंगा की जेटी पर उतरेंगी प्रियंका : प्रियंका गांधी स्टीमर से गंगा में बनी जेटी पर उतरेंगी। इस दौरान स्टीमर व जेटी को इस प्रकार जोड़ा जाएगा कि उनको किसी प्रकार की परेशानी न हो। इसके लिए हर तरह के जोखिम को ध्यान में रख स्टीमर व जेटी पर व्यवस्था की जा रही है। एसपीजी के अफसरों ने कांग्रेस पदाधिकारियों से कहा कि कार्यकर्ताओं की अधिक भीड़ नहीं होनी चाहिए, ताकि सुरक्षा व्यवस्था दुरुस्त रहे। कार्यकर्ताओं को अलग-अलग प्वाइंट पर विकेन्द्रित करने का भी निर्देश दिया। एसपीजी अफसरों ने रामनगर में पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री के आवास के साथ घाट का भी निरीक्षण किया। 

शूलटंकेश्वर तक गंगा में रिहर्सल: प्रियंका गांधी के कार्यक्रम को देखते हुए सोमवार को गंगा में रिहर्सल सुबह के वक्त होगा। इसमें जिला और पुलिस प्रशासन के अधिकारियों के अलावा कांग्रेस के वरिष्ठ पदाधिकारी भी शामिल रहेंगे। दशाश्वमेध घाट से शूलटंकेश्वर महादेव मंदिर तक स्टीमर से एसपीजी के अधिकारी जाएंगे। इस दौरान जिन घाटों पर प्रियंका गांधी का कार्यक्रम आयोजित होगा वहां की सुरक्षा व्यवस्था परखेंगे। रिहर्सल के दौरान करीब आठ स्टीमर के शामिल रहने की उम्मीद है।

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस