जागरण संवाददाता, वाराणसी। रामनगर की विश्वप्रसिद्ध रामलीला इस साल भी नहीं होगी। इसे लेकर अब तक बनी असमंजस की स्थिति पर बुधवार को विराम लग गया। काशीराज परिवार के अनंत नारायण सिंह ने रामलीला स्थगित होने की जानकारी स्वयं पुलिस आयुक्त को दी है। आयुक्त को लिखे पत्र में कोरोना महामारी को कारण बताया गया है। रामनगर की विश्व प्रसिद्ध रामलीला स्थगित होने से लीलाप्रेमियों में मायूसी है।

वैसे रामलीला नहीं होने की आशंका उसी समय हो गई थी जब रामलीला में भगवान का स्वरूप बनने वाले पात्रों का चयन नहीं हुआ। फिर प्रथम गणेश पूजन व द्वितीय गणेश पूजन भी नहीं हुआ, लेकिन दुर्ग प्रशासन की तरफ से कोई सूचना न जारी किए जाने से लोगों में संशय बना हुआ था। कोरोना संक्रमण के चलते पिछले साल भी रामलीला नहीं हुई थी। हालांकि जानकी मंदिर में अनंत चतुर्दशी से लेकर माह पर्यंत रामलीला से संबंधित चौपाइयों का गायन किया गया था। थाना प्रभारी निरीक्षक अश्विनी पांडेय ने बताया इस बार रामलीला नहीं होने की जानकारी दुर्ग प्रशासन ने आयुक्त को दी है।

Edited By: Saurabh Chakravarty