भदोही, जेएनएन। मकान पर अवैध कब्जा करने, जान से मारने की धमकी, फर्म हड़पने और चेक पर जबरिया हस्ताक्षर कराये जाने के मामले में दर्ज मुकदमे में नामजद विधायक विजय मिश्र की पत्नी एमएलसी रामलली मिश्र को शिकंजे में लेने के लिये पुलिस अलर्ट मोड में है। रिश्तेदार कृष्ण मोहन तिवारी ने ही मुकदमा दर्ज कराया है। विधायक की गिरफ्तारी के बाद अब सोनभद्र-मीरजापुर की एमएलसी को पकडऩे के लिये नया जाल बिछाया गया है।

सर्विलांस टीम ने उनकी सटीक लोकेशन पकड़ ली है। वह उत्तर प्रदेश छोड़ चुकी हैं। दो अन्य टीमों के अलावा स्पेशल टॉस्क फोर्स पूरी कार्रवाई में शामिल कर लिया गया है। कई पुराने आईपीएस अफसरों की भी मदद ली जा रही है। जिस जिले में उनके होने की जानकारी मिली है, वहां की पुलिस को अलर्ट किया गया है। उनकी शीघ्र गिरफ्तारी होने का दावा पुलिस कर रही है। सूत्रों की मानें तो हाईकमान खुद मामले का इनपुट ले रहे हैं।

एमपी-एमएलए कोर्ट में पेश करेंगे चार्जशीट

गोपीगंज कोतवाली में दर्ज हुए विधायक, एमएलसी व उनके पुत्र विष्णु मिश्र के खिलाफ मुकदमे की चार्जशीट भी तैयार होने लगी है। पीड़ति का कलमबंद बयान हो चुका है लेकिन प्रकरण से जुड़े कई और अहम जानकारियां एकत्र की जा रही हैं। यह चार्जशीट तैयार करने में पुलिस को थोड़ा वक्त जरूर लग सकता है, लेकिन मामला हाईप्रोफाइल होने के कारण पुलिस जरा भी चूक नहीं करना चाह रही है। मामले की चार्जशीट एमपी-एमएलए कोर्ट में ही पेश करने की तैयारी पुलिस करने लगी है। उधर विधायक के परिजन भी जमानत की तैयारी में लग गये हैं। लगाए गए आरोपों की काट खोजने में वह जुट गये हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस