वाराणसी, जेएनएन। मानसून की सक्रियता सोमवार को दिन भर जारी रही। सुबह से ही पूर्वांचल के जिलों में बरसात हो रही है। वाराणसी में दोपहर करीब पौने तीन बजे से झमाझम बरसात हुई। एक घंटे की तेज बरसात के कारण सड़कों और गलियों में जल भराव हो गया। इससे कई जगहों पर यातायात की समस्‍या आ गई। इस बीच मदनपुरा में दिवार गिरने से एक व्‍यक्ति जख्‍मी हो गया। वहीं आजमगढ़ में आकाशीय बिजली गिरने से दो की मौत हो गई।

आजमगढ़ के मुबारकपुर थाना क्षेत्र के दाऊदपुर गांव में सोमवार को दोपहर बाद आकाशीय बिजली गिरने से किशोर समेत दो लोगों की मौत हो गई। एक तेज बुरी तरह से झुलस गया, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दो लोगों की अकाल मौत से पीड़ित परिवार में कोहराम मच गया। सोमवार की दोपहर में एक बजे के करीब गरज-चमक के साथ तेज बारिश शुरू हुई। ग्रामीणों का कहना है कि बारिश के दौरान करीब दो से ढाई बजे के इर्द-गिर्द अचानक अाकाशीय बिजली गिरी। जिसके चपेट में आने से दाऊदपुर गांव निवासी किशोर प्रियांशु पुत्र सुदंर व 26 वर्षीय रणधीर पुत्र लालू की मौत हो गई। जबकि 26 वर्षीीय अमरजीत पुत्र लालसा बुरी तरह झुलस गया। हालांकि ग्रामीणों को भनक लगी तो तीनों को लेकर मुबारकपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भागे। वहां आपात सेवा में तैनात डाक्टर ने प्रियांशु व रणधीर को मृत घोषित कर दिया। अमरजीत को भर्ती कर उसका इलाज शुरू कर दिया। प्रियांशु व रणधीर के मौत की खबर जब परिजनों को मिली तो परिवार में कोहराम मच गया।

सोमवार को दिन में करीब एक बजे जंगमबाड़ी वार्ड के सगराबाद में कब्रिस्तान की करीब 50 फीट लंबी दीवार गिरने से युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। अफरातफरी के माहौल के बीच इलाकाई पार्षद मौके पर पहुंचे और लोगों की मदद से राहत व बचाव कार्य में जुट गए। उधर, सूचना देने के दो घंटे बाद नगर निगम की टीम मौके पर पहुंची और घायलों को बाहर निकालने में जुटी। हादसे में भेलूपुर के गौड़ियाडीह निवासी आशिक अली (25) गंभीर रूप से घायल हो गए। उनके हाथ, पैर, कमर व सिर में चोट के गंभीर निशान हैं। मदनपुरा चौकी इंचार्ज शमशाद व पार्षद गोपाल प्रसाद यादव की मदद से उन्हें शहर के एक प्राइवेट हास्पिटल में भर्ती किया गया। बाद में स्थिति गंभीर देखते हुए ट्रामा सेंटर भेजा गया। पार्षद के मुताबिक कब्रिस्तान के अंदर मिट्टी भरने के बाद दबाव को दीवार नहीं झेल पाई और अचानक गिर गई।

मस्जिद के सामने हुए हादसे में दीवार से सटी करीब 20 बाइक दब जाने से क्षतिग्रस्त हो गईं। पार्षद का कहना है कि स्मार्ट सिटी योजना के तहत कराए जा रहे काम में लगे करीब 100 मजदूर भी राहत कार्य में सामने नहीं आए। चौकी इंचार्ज के प्रयास की सराहनादशाश्वमेध थाना क्षेत्र के मदनपुरा चौकी इंचार्ज के काम की पूरे दिन सराहना होती रही। पार्षद के सूचना देने के बाद वह तत्काल मौके पर पहुंचे और साथी पुलिसकर्मियों व इलाकाई लोगों के साथ लोगों को बचाने में जुट गए। पार्षद ने बिजली विभाग को फोन करके सबसे पहले लाईट कटवाई। पार्षद ने बताया कि जो युवक गंभीर हैं वह जरी का काम करता है। उसके दिव्यांग भाई जुनैद की मौत के बाद उसी के कंधे पर उसके पूरे परिवार व भाई के बच्चों की जिम्मेदारी है। अपर नगर आयुक्त देवीदयाल वर्मा ने बताया कि सूचना के बाद मौके पर टीम को भेजा गया और राहत बचाव कार्य शुरू किया गया।

नगर में सुबह से ही कई बार बूंदा बांदी हो रही थी अचानक दोपहर को तेज बारिश शुरू हो गई जिससे नगर में जलजमाव हो गया । बारिश के कारण ग्रामीण क्षेत्रों में किसानो की बांछें खिल उठी। बारिश का यह पानी उनकी खरीफ की फसल के लिए काफी लाभदायक होगा। सैदपुर: अचानक रिमझिम बारिश से कुछ पलों के लिए लोगों को ठंड का एहसासहुआ लेकिन बाद में धूप होने से उमसभरी गर्मी में लोग परेशान रहे। बारिश के चलते जगह-जगह सड़कें कीचड़युक्त होने से लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना करना पड़ा।

Edited By: Saurabh Chakravarty