वाराणसी [जेपी पांडेय]। विकास पथ पर निरंतर अग्रसर बनारस सड़क-पुल, ओवर ब्रिज समेत परियोजनाओं के पूरी होने के साथ सुविधा-संसाधन से युक्त तो हो ही जाएगा गांव से शहर तक तिराहों-चौराहों पर बनारस का अक्स भी नजर आएगा। समस्त योजनाओं की टाइम लाइन तय करने के साथ अब प्रशासन ने मेकओवर की तैयारी भी शुरू कर दी है। इसके लिए 30 तिराहों- चौराहों को चिह्नित कर डीएम ने लोक निर्माण विभाग व नगर निगम समेत विभिन्न संस्थाओं को इसकी जिम्मेदारी दी है।

 कार्यदायी संस्थाएं चौराहों का चौड़ीकरण और सुंदरीकरण कराएंगी। रेलिंग और पौधे भी लगाएंगी। इसके लिए डिजाइन के साथ ही खर्च का स्टीमेट बनाया जा रहा है। इसे बजट के लिए शासन को भेजा जाएगा। खास यह कि प्रोजेक्ट में समयबद्धता व गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए मानीटरिंग के लिए अलग-अलग मजिस्टे्रट तैनात किए गए हैं। इनके जिम्मे कार्यदायी संस्थाओं से तय समय पर सर्वे, स्टीमेट और आगे होने वाली तैयारियों पर नजर रखना होगा। किसी तरह की दिक्कत आने पर मजिस्ट्रेट सीधे डीएम से मिल कर निस्तारित कराएंगे।

हर चौराहे की अलग जिम्मेदारी

सीपीडब्ल्यूडी को लहरतारा व रोहनिया, राजकीय निर्माण निगम को अखरी चौराहा व राजघाट-भैंसासुर घाट, एनएचएआइ को चितईपुर चौराहा व बाबतपुर एयरपोर्ट, मंडी परिषद को संदहा चौराहा, स्मार्ट सिटी को आइपी विजया चौराहा व लकड़ी मंडी तिराहा चौकाघाट, यूपीसीएंडडीएस को पहडिय़ा, यूपी सिडको को आशापुर, मंडी परिषद को चंद्रा चौराहा, सेतु निगम को पंचकोसी व कोनिया तिराहा, आवास विकास को अंतुलानंद तिराहा व शिवपुर तिराहा, लोक निर्माण विभाग को जेपी मेहता इंटर कालेज व गोलगड्डा तिराहा, यूपी पैक्स फेड को गोलघर कचहरी व लक्सा तिराहा, वीडीए को मरीमाई तिराहा तेलियाबाग व गिरजाघर चौराहा, जलनिगम को मछोदरी व भिखारीपुर तिराहा, गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई को भेलूपुर व चेतमणि तिराहा, यूपी पीसीएएल को दुर्गाकुंड पुलिस चौकी तिराहा।

विभूतियों की सूची देगा पर्यटन विभाग

शहर के विभिन्न चौराहों पर विभूतियों, पदम्श्री अवार्डियों समेत विशिष्टजन की प्रतिमाएं स्थापित हंै। उन पर उनसे जुड़ी चीजें भी नजर आएंगी। डीएम ने इन चौराहों की संयुक्त निदेशक पर्यटन व क्षेत्रीय संस्कृति अधिकारी से सूची मांगी है।

कार्यदायी संस्थाओं को डिजाइन के साथ स्टीमेट बनाने का निर्देश दिया गया है

चौराहों के सुंदरीकरण के लिए पिछले दिनों बैठक कर कार्यदायी संस्थाओं को डिजाइन के साथ स्टीमेट बनाने का निर्देश दिया गया है। इसकी मानीटरिंग के लिए सभी अपर नगर मजिस्ट्रेट, एसडीएम, डिप्टी कलेक्टर माल की ड्यूटी लगाई गई है।

-गुलाब चंद्र, अपर जिलाधिकारी नगर

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021