बलिया, समीर तिवारी : वाराणसी, आजमगढ़ व मीरजापुर परिक्षेत्र (रेंज) में फरार गैंगस्टर एक्ट के आरोपित पुलिस के लिए चुनौती बने हुए हैं। पूर्वांचल के 10 जनपदों में नौ साल में गैंगस्टर एक्ट के 7839 वांछितों में 7012 की गिरफ्तारी या सरेंडर हो चुका है। वहीं 827 बदमाश अभी भी सलाखों के बाहर हैं।

परिक्षेत्र के हिसाब से सबसे अधिक वांछित गैंगस्टर वाराणसी तो जनपदों में आजमगढ़ का नाम शामिल है। आजमगढ़ परिक्षेत्र में आजमगढ़ 1659 में 1477, मऊ 714 में 646 व बलिया 700 में 645 वांछित गिरफ्तार। वाराणसी परिक्षेत्र में जौनपुर 1368 में 1250, गाजीपुर 825 में 777, वाराणसी ग्रामीण 416 में 304 व चंदौली 943 में 871 वांछित गिरफ्तार। मीरजापुर परिक्षेत्र में मीरजापुर 468 में 414, सोनभद्र 487 में 421 व भदोही 259 में 207 वांछितों की गिरफ्तारी या आत्मसमर्पण हो चुका है।

कुल वांछित अपराधियों का विवरण

कुल वांछित 120126 अपराधियों में 113703 की गिरफ्तारी हो चुकी है जबकि 6423 फरार हैं। आजमगढ़ परिक्षेत्र में आजमगढ़ 17208 में 16325, मऊ 14709 में 14299 व बलिया 15058 में 14480 वांछित गिरफ्तार। वाराणसी परिक्षेत्र में जौनपुर 10876 में 8998, गाजीपुर 18549 में 18151, वाराणसी ग्रामीण 9170 में 8414 व चंदौली 11906 में 11541 वांछित गिरफ्तार। मीरजापुर परिक्षेत्र में मीरजापुर 6645 में 6120, सोनभद्र 10247 में 9881 व भदोही 5758 में 5494 वांछितों की गिरफ्तारी या आत्मसमर्पण हो चुका है।

वांछित अपराधियों की धरपकड़ के लिए लगातार अभियान चलाया जाता है। इसी का परिणाम है कि बड़ी संख्या में बदमाशों की गिरफ्तारी की गई है। इसके अलावा शेष नए मामलों के आरोपितों को पकड़ने के लिए प्रयास जारी है।

-- दुर्गा शंकर तिवारी, एएसपी, बलिया।

गैंगस्टर एक्ट में वांछित बदमाशों का विवरण

जोन--वांछित--गिरफ्तार--फरार

वाराणसी--3552--3202--350

आजमगढ़--3073----2768--305

मीरजापुर--1214--1042--172

कुल वांछित बदमाशों का विवरण

जोन--वांछित--गिरफ्तार--फरार

वाराणसी--50501--47104--3397

आजमगढ़--46975--45104--1871

मीरजापुर--22650--21495--1155

Edited By: Saurabh Chakravarty