वाराणसी, जेएनएन। सोनभद्र नरसंहार की आंच अब देश भर में फैलने लगी है। इसी कड़ी में पश्चिम बंगाल से तृणमूल कांग्रेस के सांसदों का एक दल शनिवार की सुबह इंडिगो एयरलाइंस के विमान 6इ713 से सुबह वाराणसी स्थित लाल बहादुर शास्‍त्री इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचा।

एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से टीएमसी सांसदों व विधायकों का प्रतिनिधिमंडल सोनभद्र में मृतकों के परिजनों और गंभीर रूप से घायलों से मुलाकात करना चाह रहा था। मगर सभी को जब जिला प्रशासन ने रोक दिया गया तो टीएमसी नेता परिसर में ही धरने पर बैठ गए। इसके बाद प्रशासन ने ट्रामा सेंटर तक जाने की अनुमति तो दी मगर आगे सोनभद्र जाने से रोक दिया तो वापस लौट कर टीएमसी संसदीय दल ने एक बार फ‍िर परिसर में धरना शुरु कर दिया।  

हालांकि तीन घंटों तक बबातपुर एयरपोर्ट पर चले ड्रामे के बाद प्रशासन ने टीएमसी प्रतिनिधिमंडल को शहर प्रस्थान की अनुमति दे दी। टीम लीडर ने कहा कि हम लोग अभी ट्रामा सेंटर जा रहे हैं उसके बाद सोनभद्र भी जाएंगे अौर पीडितों से मुलाकात करेंगे। वहीं जब तक एयरपोर्ट परिसर में विवाद की स्थिति बनी रही उस दौरान शीर्ष टीएमसी नेताओं की भी सक्रियता वाराणसी एयरपोर्ट पर अपने नेताओं को रोके जाने को लेकर बनी रही। दोपहर करीब दो सभी सभी टीएमसी नेता ट्रामा सेंटर पहुंचे और अस्‍पताल में भर्ती प‍ीडितों से मुलाकात कर घटना के बारे में जानकारी भी ली। हालांकि डेरेक ओ ब्रायन सहित टीएमसी के तीनों सांसदों को ट्रामा सेंटर से सोनभद्र नहीं जाने दिया गया। तीनों वापस एयरपोर्ट निकल गए और पुन: परिसर में धरना शुरू कर दिया।

प्रशासन ने एयरपोर्ट पर दिखाई सख्‍ती

टीएमसी नेताओं की पूरी टीम के सुबह एयरपोर्ट पर पहुंचते ही सभी नेताओं को एप्रन पर रोकने के साथ वीआइपी लाउंस भेज दिया गया। तृणमूल कांग्रेस के नेताओं में सांसद डेरेक ओ ब्रॉयन, सुनील मंडल, अबीर रंजन बिस्वास और उमा सरेन शामिल थे। इससे पूर्व सुबह ही टीएमसी नेताओं के वाराणसी पहुंचने और सोनभद्र जाने की जानकारी होने के बाद प्रशासन ने आनन फानन बाबतपुर एयरपोर्ट पर तृणमूल कांग्रेस के सांसदों व विधायकों को रोकने के लिए भारी संख्‍या में पुलिस बल सुबह ही तैनात कर दिया। वहीं टीएमसी नेताओं के धरने के बाद सीओ पिंडरा और एसओ बड़ागांव उनको समझाने पहुंचे।

टीएमसी यूपी में भाजपा को घेरने में जुटी

नेताओं को एयरपोर्ट परिसर में ही रोकने और वहीं से उनको वापस करने के लिए प्रशासनिक गहमागहमी के बीच यात्रियों में भी अचानक भारी फाेर्स को लेकर काफी सुगबुगाहट बनी रही। विमान साढे़ नौ बजे आने के बाद डीएम, एसएसपी, एडीएम प्रशासन, एसपीआरए सहित पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी भी पहुंच गए और टीएमसी की टीम एयरपोर्ट पहुंचते ही एप्रन पर ही रोक कर वीआइपी लाउंज में भेज दिया गया। मामले की जानकारी होने के बाद टीएमसी के आधिकारिक टिवटर हैंडल से भी धरने की फोटो जारी की गई है। 

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप