वाराणसी, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वाराणसी जिले में माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने की तैयारी कर रहे मनोज यादव ने मुलाकात कर सहयोग मांगा तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुशी खुशी मदद करने का भरोसा दिया है। मनाेज यादव पुत्र अखिलेश यादव और माता कौशल्या देवी चांदपुर निवासी हैं। प्रधानमंत्री ने 16 फरवरी को वाराणसी आगमन के दौरान मनोज से मुलाकात भी की थी। वहीं पीएम ने एवरेस्‍ट चढ़ने के लिए आई आर्थिक समस्‍या को दूर करने के लिए पीएमओ को पत्र लिखने की बात कही है ताकि उनकी समस्‍याओं का निराकरण किया जा सके।

इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने काशी के लाल के नाम से मशहूर पर्वतारोही मनोज यादव को आशीर्वाद दिया। वहीं अपने लोकसभा क्षेत्र वाराणसी से माउंट एवरेस्ट विजय की तैयारी करने के लिए कहा। इनके तैयारी में बाधा उत्पन्न होने की बात कहने पर आर्थिक रूप से उसके मांग पत्र को पीएमओ प्रधानमंत्री ऑफिस भेजने को कहा। इस दौरान प्रधानमंत्री ने मनोज यादव से बात कर उनके सपने को पूरा करने के लिए शुभकामनाएं भी दीं।

प्रधानमंत्री ने मनोज से यह पूछा कि पिताजी क्या करते हैं तो बताया कि चांदपुर ग्राम सभा में छोटी सी पान की दुकान है जिससे छह लोगों का खर्च चलता है। बताया कि आर्थिक समस्‍या की वजह से विश्व की ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर तिरंगा फहराने का सपना पूरा नहीं हो पा रहा है। मनोज के सपनों की उड़ान में आर्थिक बाधा उत्पन्न होने की जानकारी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी ने मनोज यादव का आशीर्वाद दिया और उनसे सहयोग का मांगपत्र पीएमओ को भेजने की बात कही है। 

वहीं पीएम से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री ने माउंट एवरेस्ट को फतेह करने का आशीर्वाद दिया। जब वार्तालाप खत्म हुई तो मनोज यादव ने प्रधानमंत्री के पैर छूने का प्रयास किया। इसपर प्रधानमंत्री ने कहा कि स्पोर्ट्समैन कभी झुकता नहीं है और आप विश्व की सबसे ऊंची चोटी पर वाराणसी लोकसभा क्षेत्र से फतेह करो यह मेरा आशीर्वाद है। 

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस