वाराणसी, जागरण संवाददाता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सात जुलाई को बनारस आगमन को लेकर तैयारी अंतिम दौर में है। एक दिन पहले फुल ड्रेस रिहर्सल होगा। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जबरदस्त तैयारी की जा रही है। तैयारी के ही मद्देनजर वायुसेना के हेलीकाप्टर ने उड़ान भरी। बाबतपुर एयरपोर्ट से लेकर पुलिस लाइन तक चक्कर लगाया। इसके साथ ही सभी कार्यक्रम स्थलों तक गया। इसके बाद वापस बाबतपुर एयरोपर्ट लौट गया।

इस बार प्रधानमंत्री का कार्यक्रम तीन जगहों पर है। इसे देखते हुए तीन जगहों पर सुरक्षा व्यवस्था की गई है। साथ ही आवागमन के लिए तय रूट पर भी सुरक्षा के लिए जवान मुस्तैद रहेंगे।

प्रधानमंत्री की सुरक्षा में 21 आईपीएस अफसरों के जिम्मे रहेगी। बाहरी सुरक्षा घेरे में 20 आईपीएस के अतिरिक्त 42 एडिशनल एसपी, 65 डिप्टी एसपी, 12 कंपनी पीएसी, 12 कंपनी सेंट्रल पैरामिलिट्री फोर्स के जवान, 5000 से ज्यादा सिपाही, हेड कांस्टेबल, दरोगा व इंस्पेक्टर के साथ यातायात के जवान भी मौजूद रहेंगे। इसके साथ ही प्रधानमंत्री की आतंरिक सुरक्षा पांच स्तरीय होगी। सुरक्षा की कमान एसपीजी के पास होगी, एटीएस के कमांडो, केंद्रीय खुफिया एजेंसियों के अधिकारी और सेंट्रल पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों के जिम्मे रहेगी।

वहीं, बाह्य सुरक्षा घेरे में पुलिस और पीएसी के जवानों के अलावा स्थानीय अभिसूचना इकाई, डॉग स्क्वॉड और बम निरोधक दस्ता तैनात रहेगा। इसके साथ ही प्रधनमंत्री के विमान और हेलीकाप्टरों की सुरक्षा की देखरेख में सेना के जवान तैनात रहेंगे। इसके साथ ही मार्गों पर बैरिकेडिंग के साथ पुलिस के जवान मौजूद रहेंगे। रास्तों की इमारतों पर भी पुलिस के जवानों की तैनाती रहेगी। कार्यक्रम स्थलों के आसपास रहने वालों को वेरिफिकेशन पहले ही कराया जा चुका है। वहीं कार्यक्रम में भाग लेने वालों की भी सूची जिला प्रशासन को सौंप दी गई है। प्रधानमंत्री बनारस में चार घंटे से अधिक समय तक रहेंगे। इस दौरान तीन जगहों पर अलग-अलग कार्यक्रमों में शामिल होंगे।

Edited By: Saurabh Chakravarty