मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

वाराणसी, जेएनएन। विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अध्यक्ष डॉ. प्रवीण तोगड़िया ने शुक्रवार की शाम सात बजे सारनाथ के आकाशवाणी तिराहे पर महाराजा सुहेलदेव की आदमकद प्रतिमा का माल्यार्पण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि मीरजापुर में हाइवे बनाने को लेकर सरकार किसानों की लगभग 12000 एकड़ जमीन का अधिग्रहण कर रही है। लेकिन उन्हें भूमि अधिग्रहण अधिनियम 2013 के तहत सर्किल रेट का 4 गुना मूल्य किसानों को नहीं दे रही है। भूमि अधिग्रहण अधिनियम 2013 के मुताबिक मीरजापुर में प्रति एकड़ भूमि का मूल्य लगभग  7.50 करोड़ रुपया होगा। जबकि सरकार प्रति एकड़ 50 लाख रुपया के हिसाब से किसानों को मुआवजा दे रही है।

स्वतंत्र भारत में नियम का उल्लंघन कर वर्तमान सरकार लगभग 84000 करोड रुपए का लूट कर रही है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। आगामी लोकसभा चुनाव में कोई भी किसान भाजपा के प्रत्याशियों को वोट नहीं देगा। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मोदी जी 29 दिसंबर को राष्ट्रीय धान अनुसंधान केंद्र का उद्घाटन कर रहे हैं। आज के किसान इसे भली-भांति समझ गए हैं। वर्तमान प्रधानमंत्री को किसानों को धान के समर्थन मूल्य का लगभग डेढ़ गुना मूल्य 2500 रूपया प्रति क्विंटल के हिसाब से देना था। लेकिन वह वादा खिलाफी कर केवल 1750 रुपए प्रति क्विंटल धान का मूल्य निर्धारित किये।

एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि राजस्थान, मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ में भाजपा की हार का मुख्य कारण है कि वर्तमान सरकार किसानों व युवाओं के साथ धोखा किया है। उन्होंने किसानों को कर्ज से मुक्त नहीं किया और युवाओं को रोजगार नहीं दिया। इसका परिणाम 2019 के लोकसभा चुनाव में देखने को मिलेगा। इसके बाद वह बाबतपुर एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए। इस मौके पर राहुल राजभर, रामानुज पटेल, मोहन राजभर, सिकंदर विजय, पटेल ने माल्यार्पण कर डॉ. प्रवीण तोगड़िया का स्वागत किया।

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप