वाराणसी, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के करीब चार घंटा के दौरा में पौधरोपण व भाजपा का राष्ट्रीय सदस्यता अभियान शुरू करने के साथ ही वर्चुअल म्यूजियम का भी अवलोकन किया। वहां करीब 20 मिनट रुके पीएम मोदी के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ, भाजपा के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा व भाजपा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पाण्डेय भी थे।

म्यूजियम में अवलोकन करने के बाद पीएम मोदी का पुलिस लाइन से हेलिकॉप्टर से एयरपोर्ट जाने का कार्यक्रम था। मौसम खराब होने के कारण पीएम मोदी अब पुलिस लाइन से सड़क मार्ग से ही एयरपोर्ट जाएंगे। पीएम मोदी का कार्यक्रम बारिश के कारण बदला गया।
पीएम नरेंद्र मोदी भाजपा के राष्ट्रीय सदस्यता अभियान का आगाज करने के बाद दीनदयाल हस्तकला संकुल से निकले। वाराणसी में हो रही हल्की बारिश के बीच उनका काफिला मान मंदिर पहुंचा। पीएम मोदी ने यहां पर बने वर्चुअल म्यूजियम का अवलोकन किया। वर्चुअल म्यूजियम में काशी का स्वरूप दिखता है। यहां पर लोग 3 डी के माध्यम से वाराणसी का आभास करते हैं। इस म्यूजिम का पीएम मोदी ने उद्घाटन किया था।दशाश्वमेध रोड पर पीएम मोदी का स्वागत शहनाई की मंगल ध्वनि के साथ हुआ। इस दौरान हल्की बारिश भी हो रही थी। मान महल घाट स्थित वर्चुअल म्यूजियम में प्रधानमंत्री ने काशी का महात्म्य देखा।

पीएम मोदी ने थ्री डी चश्मा पहन कर वर्चुअल म्यूजियम के कुछ हिस्सों को देखा। पीएम मोदी आज मान मंदिर घाट पर वर्चुअल म्यूजियम को देखने के लिए पहुंचे। इस खास संग्रहालय में पीएम मोदी ने काशी के इतिहास से जुड़े तमाम तथ्यों की जानकारी ली। इसके अलावा उन्होंने यहां पर गंगा के उद्भव से जुड़ा एक वर्चुअल शो भी देखा। 

इस म्यूजियम का उद्घाटन 19 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही किया था। 11 करोड़ रुपये से बने इस म्यूजियम में आठ भाग हैं। सांस्कृतिक रंगो से सराबोर इस संग्रहालय में वास्तविक की बजाय सब आभासी है। बिना छूए इसे महसूस किया जा सकता है। 

यह संग्रहालय काशी की धर्म, कला और संस्कृति का बेहतरीन अभास कराता है। यहां प्रवेश करते ही एक नजर में पूरी काशी का संक्षिप्त परिचय होता है। प्रोजेक्टर से प्राचीनतम बस्ती, भगवान बुद्ध का प्रथम उपदेश, सारनाथ में अशोक स्तंभ और स्तूप स्थापना, गोस्वामी तुलसी दास, रामनगर किला, भारत कला भवन आदि को दिखाया गया है। 

इस वर्चुअल म्यूजियम के हाल-1 में विहंगम वाराणसी का म्यूरल आर्ट, शिव पूजन और काशी परिचय, हाल-2 में एक नजर में बनारस, बनारस की गलियां, हाल-3 में साहित्य और पत्रकारिता, वाराणसी वस्त्राणसी, संगीत और नृत्य, काशी शिल्प, हाल-4 में गंगावतरण, हाल-5 में अग्निहोत्र, हाल-6 में बनारस के बसिया, काशीनामा, आयुर्वेद, हाल-7 में मुक्तिधाम, गंगाजली, हाल-8 में संगीतमय दीवार, रामलीला है। इस दौरान पीएम मोदी ने पांच टूरिस्ट गाइड से मुलाकात की और वाराणसी पर्यटन के बारे में जानकारी ली। 


पीएम नरेंद्र मोदी अपने दौरे पर जिस वर्चुअल म्यूजियम में पहुंचे, उसे उन्होंने वाराणसी को बीती 19 फरवरी को समर्पित किया था। मान महल घाट पर वर्चुअल म्यूजियम उद्घाटन के बाद से ही पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। वाराणसी की सांस्कृतिक विरासतों का एक अद्भुत दर्शन कराने वाले इस संग्रहालय का निर्माण 11 करोड़ रुपये की लागत से हुआ था। 

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप