वाराणसी (जेएनएन)। अपना दो दिवसीय वाराणसी दौरा पूरा कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बाबतपुर हवाई अड्डा से अहमदाबाद के लिए रवाना हो गये। राज्यपाल राम नाईक व मुख्यमंत्री योगी भी लाल बहादुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से लखनऊ रवाना हो गये। 

 

इसके पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में प्रवास के दूसरे दिन तोहफों की बौछार के बीच विपक्ष पर भी जोरदार तंज कसा। प्रधानमंत्री ने पीएम आवास योजना के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित किया।  इस दौरान उन्होंने छोटी सी सभा को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने विपक्ष पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि हम सिर्फ वोट बैंक के लिए काम नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि आमतौर पर राजनीति में लोग वही काम करते हैं जिससे वोट बैंक मजवूत हो। हम ऐसे नहीं। इन पशुओं से वोट नहीं मिलना। हमारी योगी सरकार ने इनका भी मेला लगाया। बधाई। हमारे संस्कार अलग हैं। हमारे लिए दल से बड़ा देश है। पशुधन आरोग्य मेले से किसानों को बहुत मदद मिलेगी।

 

विपक्ष पर प्रहार करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि वोट बैंक के लिए काम करना कुछ लोगों का स्वभाव है, लेकिन हमारे लिए दल से बड़ा देश है। अब तक पशुधन के लिए काम नहीं किया गया था। पशुपालन और दूध उत्पादन से नई आर्थिक क्रांति का जन्म होगा। 2022 में देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होंगे सो आजादी के दीवानों का संकल्प पूरा करने का संकल्प लें और 5 साल में संकल्प सिद्ध करें। 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प है।

 

पीएम मोदी ने स्वच्छता को लेकर कहा कि बीमारियां बढ़ाने का काम गंदगी करती है। आरोग्य के लिए स्वच्छता जरूरी है। शहंशाहपुर गांव में 2 अक्टूबर के बाद खुले में शौच करने नहीं जाएगा। स्वच्छता मेरे लिए पूजा है। गरीबों को बीमारी से दूर रखेगी, स्वच्छता हर भारतवासी की जिम्मेदारी है। सफाई के लिए जितना काम होना चाहिए उतना नहीं हुआ है। गंदगी हम करते हैं और सफाई कोई ओर, स्वच्छता सबकी जिम्मेदारी है। हर आदमी और परिवार का जिम्मा है।

 

पीएम ने कहा कि हमने मुश्किल काम का बीड़ा उठाया, मैं मुश्किल काम नहीं करूंगा तो कौन करेंगा। 2022 तक हर गरीब को घर देना है। हमें करोड़ों घर बनाने हैं, जिससे रोजगार आएगा। यूरोप के एक देश जितने घर हमें बनाने हैं। पिछली सरकारों ने घर को लेकर कोई काम नहीं किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 2022 आजादी का 75 वां साल होगा। 2022 तक सभी को आवास का संकल्प पूरा करेंगे, पिछली सरकार को लोगों के घरों में रूचि नहीं थी। मुश्किल से 10,000 लोगों की सूची दे पाए। योगी सरकार ने लाखों लोगों के लिए आवास मांगा। यह फर्क है।  योगी सरकार ने लाखों लोगों के लिए आवास मांगा। यह फर्क है।

 

पीएम ने कहा कि मैं आज शहंशाहपुर में शौचालय की नींव रखने गया था। वहां मैंने देखा कि उन्होंने शौचालय का नाम इज्जतघर दिया। मुझे बहुत अच्छा लगा। जिसे भी अपनी इज्जत की चिंता है, वह जरूर इज्जतघर बनाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि संकल्प लें एक-एक, बेहतर करने का। हमारा संकल्प है कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करेंगे। हमें मिट्टी जांच के लिए आगे बढ़ना होगा। हमें स्वच्छता की ओर बढ़ना होगा क्योंकि आरोग्य की पहली शर्त यही है। स्वच्छता मेरे लिए पूजा है। मेरा सौभाग्य कि नवरात्र में मुझे शौचालय की नीव रखने का मौका मिला। शौचालय का नाम इज्जत घर रखने के लिए प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री को सराहा।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पशुधन आरोग्य मेले के लिए मैं मुख्यमंत्री का बहुत बहुत आभार प्रकट करता हूं। हमारे किसानों को सबसे ज्यादा मदद पशुपालन और दुग्ध उत्पादन के जरिये होती है। पशु आरोग्य मेला के लिए मुख्यमंत्री को बधाई। दूसरे स्थानों पर भी पशु आरोग्य मेला लगाने की अपील। हमारे किसानों को सबसे ज्यादा मदद पशुपालन और दुग्ध उत्पादन के जरिये होती है। गांव गरीब और किसान का लक्ष्य लेकर हम आगे बढ़ रहे हैं। योगी सरकार को बहुत बहुत बधाई। 

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारी भीड़ पर खुशी जाहिर की। कहा कि हजारों लोग धूप में खड़े हैं, उनसे क्षमा। मेरी व्यवस्था कम पड़ गई। मगर मेरा आप लोगों से ये वादा है कि आप लोगों की ये तपस्या व्यर्थ नही जाएगी। आज भारी संख्या में लोग आये हैं और कुछ लोगों को धूप में भी खड़ा होना पड़ रहा है। मैं आप सबसे क्षमा मांगता हूँ कि जो हमने व्यवस्था करी थी वो कम पड़ गई। इस दौरान प्रदेश के नगर विकास तथा संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना भी मंच पर थे।

 

प्रधानमंत्री ने देश का सम्मान बढ़ाया :योगी आदित्यनाथ 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी सभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वैश्विक नेता हैं। उन्होंने तो दुनियाभर में देश का सम्मान बढ़ाया। प्रधानमंत्री के मार्ग दर्शन में आवास योजना पर काम चल रहा है। उत्तर प्रदेश में छह महीने में हमने आठ लाख लोगों को घर दिया है। आज यहां 15 हजार लोगों को घर का सर्टिफिकेट दिया जाएगा। गांवों में शौचालय के लिए 12 हजार रुपये दिए जा रहे हैं।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में दौरे के दूसरे दिन आज पशु आरोग्य मेला का उद्घाटन किया। इसके साथ ही शहंशाहपुर गांव में कुछ दलित परिवारों के साथ भेंट की। प्रधानमंत्री ने कुछ दलित परिवार के लोगों से मुलाकात की। इस दौरान करीब तीन वर्ष की बच्ची जब दूसरी ओर देख रही थी तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन बार उसके सिर पर थपकी देकर अपनी आोर खींचा ध्यान। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस गांव में एक शौचालय के लिए प्रतीकात्मक गड्ढ़ा भी खोदा।

 

इसके बाद पशु आरोग्य मेले का शुभारंभ किया। इसके बाद मेला स्थल का निरीक्षण किया। शाहंशाहपुर में पशु आरोग्य मेला शुभारंभित करने के बाद प्रधानमंत्री ने वहां पर ऐसी गायों को देखा तो कि पॉलीथीन के सेवन से गंभीर रूप से बीमार हो गईं थी। इसके बाद इन सभी को ऑपरेशन करने के बाद फिर से स्वस्थ्य किया गया।यहां गंगातीरी नस्ल की 1000 गायों को पशु आरोग्य मेले में लाया गया है। कदरन छोटी काठी की गायें बेहद पौष्टिक दूध देती हैं, मगर इन दिनों यह नस्ल संकट में है।

इससे पहले प्रधानमंत्री डीजल रेल कारखाना के गेस्ट हाउस से आज से आयोजन स्थल शाहंशाहपुर के लिए हेलीकाप्टर से रवाना हो गए। वहां पर राज्यपाल राम नाईक व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उनको हेलीपैड तक विदा करने पहुंचे थे। 

 

इसी बीच डीरेका गेस्ट हाउस में आज उन्होंने शिक्षा मित्रों के चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल से भी भेंट की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आज वाराणसी में शिक्षा मित्रों के चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने भेंट की। इन लोगों ने अपने मामले में प्रधानमंत्री से हस्तक्षेप करने की मांग रखी है। एलआइयू तथा जिला प्रशासन की टीम इनको लेकर डीरेका गेस्ट हाउस में पहुंची थी। 

इससे पहले दौरे कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्र और राज्य की 30 परियोजनाओं में से 17 का लोकार्पण और बाकी का शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री ने सबसे पहले बुनकरों के लिए 305 करोड़ की लगत से बने दीनदयाल हस्तकला संकुल ट्रेड सेंटर का लोकार्पण किया. इसके बाद उन्होंने वाराणसी से बड़ोदरा को जोडऩे वाली महामना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

यह भी पढ़ें: मोदी का काशी दौराः डाक टिकटों की शीट आपूर्ति के जरिए एक कतार में दिखे 44 देश

दीनदयाल हस्तकला संकुल के उद्घाटन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभा को भी संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने इस दौरान विपक्ष पर हमला किया। उन्होंने कहा कि विपक्ष की सरकारों को विकास से कोई लेना देना नहीं था। उनका मकसद सिर्फ चुनावों के समय तिजोरी के बल पर चुनाव लडऩा था।

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन से पहले वाराणसी में सड़कों पर आक्रोशित छात्राएं

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार चाहती है कि पूर्वांचल और पूर्वी भारत देश की अर्थव्यवस्था में पश्चिम भारत जैसी ताकत बने। हम इस दिशा में काम भी कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि गरीबों का सपना हमारी सरकार का भी सपना है। हम उनका सशक्तिकरण करने और उन्हें सामर्थयवान बनाने में लगे हुए हैं।

यह भी पढ़ें: हस्त शिल्पी अाधुनिक भारत के निर्माता, हम बनेंगे उनकी ताकत

काशी में ऐसा सामर्थय है, जिससे भविष्य के दरवाजे खुल सकते हैं। इस दौरान पीएम मोदी ने बिना नाम लिए अखिलेश सरकार पर हमला भी बोला। उन्होंने कहा कि हम जिस योजनाओं का शिलान्यास करते हैं उनका लोकार्पण भी करते हैं।

 

Posted By: Dharmendra Pandey