वाराणसी, जेएनएन। कोरोना वायरस संक्रमण के खतरों के बीच पीएम नरेंद्र मोदी लंबे समय से अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी नहीं आए हैं। जबकि बीते दिनों वाराणसी की कई योजनाओं का पीएम ने लोकार्पण और शिलान्‍यास ऑनलाइन किया था। अब उनके वाराणसी आने की सुगबुगाहट एक बार फ‍िर शुरू हुई है। इसके लिए शनिवार को मिर्जामुराद क्षेत्र में पीएम की जनसभा के लिए स्‍थल का निरीक्षण भी अधिकारियों द्वारा किया गया हैै। प्रधानमंत्री नरेंद मोदी के 30 नवंबर के संभावित आगमन पर जनसभा व हैलीपैड बनाने को लेकर शनिवार को अधिकारियों ने खजुरी स्थल का निरीक्षण किया।

एडीजी, आइजी, एसएसपी व एसपी (ग्रामीण) ने शनिवार की शाम को  मिर्जामुराद के खजुरी पुलिस चौकी के सामने हाइवे किनारे कृषि विज्ञान केंद्र के पास फसल कटने के बाद खाली पड़े खेतोंं का मौके पर पहुंच अवलोकन किया।अधिकारियों के अनुसार प्रधानमंत्री के 30 नवंबर को देव दीपावली के मौके पर वाराणसी आने की संभावना है। प्रधानमंत्री द्वारा हाइवे के सिक्सलेन सड़क का लोकार्पण करने की भी चर्चा इस दौरान रही। वहीं इस दौरान एसडीएम (राजातालाब), सीओ व थानाप्रभारी भी साथ मौजूद रहे। 

देव दीपावली का आयोजन

चर्चा के अनुसार पीएम नरेंद्र मोदी 30 नवंबर काे देव दीपावली के मौके पर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी आ रहे हैं। पीएम के दूसरे कार्यकाल के दौरान यह पहला मौका होगा जब पीएम काशी में देव दीपावली पर आयोजन में सम्मिलित होंगे। वहीं पीएम के देव दीपावली के मौके पर काशी को योजनाओं की सौगात देने की जानकारी होने के बाद जिले में प्रशासनिक अधिकारी भी अब सक्रिय मोड में आ गए हैं। मुख्‍यमंत्री के बीते दौरे में भी जिला प्रशासन को पीएम की प्राथमिकता वाली परियोजनाओं के जल्‍द पूरा करने का निर्देश दिया गया था।

खजुरी में 2013 में हुई थी मोदी की शंखनाद रैली

लोकसभा चुनाव के पूर्व वर्ष 2013 में 20 दिसंबर को मिर्जामुराद के खजुरी में ही नरेंद्र मोदी की महा विजय शंखनाद रैली हुई थी। वाराणसी के भाजपा जिलाध्यक्ष रहे ड़ा.आजाद सिंह गौतम ने मेहनत कर किसानों से उनके खेत लिए थे और काफी मेहनत की थी। नतीजा रहा कि रैली में भारी जनसैलाब उमड़ा था। इसके बाद नरेंद्र मोदी वाराणसी से लोकसभा के प्रत्याशी बने थे। नरेंद्र मोदी के सभास्थल पर कुछ वर्ष बाद हाइवे को सिक्सलेन बनाने में जुटी जी.आर.इंफ्रा प्रोजेक्ट्स लिमिटेड कम्पनी अपना अस्थाई प्लांट बना ली। प्लांट अभी भी बना है। इस बार का सभास्थल हाइवे की दूसरी पटरी के किनारे बनाने की संभावित योजना है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस