वाराणसी : गरीबों की झोपड़ी में 'अच्छे दिन' का वादा आज पूरा हो गया। अब पक्के मकान सुलभ कराने की योजना परवान चढ़ेगी, इसकी शुरूआत शनिवार को आराजीलाइन विकास खंड के शाहंशाहपुर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर दी। उन्होंने अपने हाथों से 10 शहरी व ग्रामीण लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास योजना का स्वीकृति पत्र वितरित किया।

जिला प्रशासन ने गांव में शहर के 7500 और ग्रामीण क्षेत्र के करीब सात हजार लोगों को सर्टीफिकेट वितरित किया। सूची का मिलान कराते हुए उन्हें वितरित किया गया। उधर शहरी क्षेत्र के गरीबों के खाते में पहली किश्त जारी करने के लिए सौ करोड़ रुपये स्वीकृत भी कर दिए गए, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों का पैसा मिल चुका है वहां धनराशि खाते में भेजने की कार्रवाई आरंभ होने वाली है। जिला नगरीय विकास अभिकरण के परियोजना अधिकारी कंचन सिंह परिहार ने बताया कि सभी लाभार्थियों को एक खास तरह के साफ्टवेयर से भी जोड़ने की प्रक्रिया चल रही है, इससे उनके खाते में आवास से संबंधित जानकारी समय-समय पर उपलब्ध कराई जाती रहेगी।

फिर शुरू होगा आवासों का सर्वे

अब उन लोगों का सर्वे शुरू होने जा रहा है, जिन्हें पात्र होते हुए भी प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना का लाभ नहीं मिला। अब नगर निगम व डूडा मिलकर ऐसे सभी पात्र गरीबों की तलाश करेगी, उन्हें भी इस योजना से जोड़ने की कवायद होगी।

Posted By: Jagran