वाराणसी, जेएनएन। रिकॉर्ड तोड़ रही फुटकर महंगाई में अब पेट्रोल ने आग लगा रखी है। दस दिनों में पेट्रोल का मूल्य 1.05 रुपये महंगा हो गया है। जनता की जेब धीरे-धीरे कट रही है और लोगाें को पता भी नहीं चल पा रहा। हालांकि डीजल के मूल्य में जरूर मामूली वृद्धि राहत देने वाली है।

दस दिनों के पेट्रोल मूल्यों पर गौर करें तो नतीजे काफी चौंकाने वाले हैं। छह नवम्बर को पेट्रोल 74.84 रुपये रहा जो 16 नवम्बर को 75.85 रुपये हो गया। हाल के दिनों में इस बढ़ोत्तरी को सबसे तेज मना जा रहा है। रविवार को तेल कम्पनियों ने पेट्रोल का दाम 75.85 रुपये जारी किया गया। डीजल मूल्य ने इस दौरान जरूर राहत दी ही। छह नवम्बर को डीजल मूल्य 66.58 रुपये था जो 10 दिनों बाद 66.62 रुपये हो गया।

मसलन मात्र 04 पैसे की वृद्धि दर्ज की गई, जो कि राहत देने वाली है। सरकार को चाहिए कि अंकुश को प्रयास करे। ऐसा नहीं हुआ तो प्याज के भाव कि भांति रुलाएगा। प्याज मामले में ऐसा ही हुआ, सरकार प्याज के मूल्य पर अंकुश के वादे करती रही और मूल्य 40 से 70 रुपये तक जा पहुंचा। करती रही और भाव 60 रुपए प्रति किलो के आंकड़े को छू लिया। 

पेट्रोल कीमतों के आंकड़ों पर एक नजर

दिनांक  दर/पेट्रोल  
6 नवम्बर  74.84
7 नवम्बर  74.91
8 नवम्बर 74.91
9 नवम्बर   75.19
10 नवम्बर  75.31
11 नवम्बर   75.39
12 नवम्बर 75.39
13 नवम्बर  75.30
14 नवम्बर  75.66
15 नवम्बर  75.65
16 नवम्बर   75.84

          

           

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप