वाराणसी : कैंट स्टेशन से भटनी जा रही 75114 डीएमयू में कादीपुर (चौबेपुर) स्टेशन से ठीक तीन सौ मीटर पहले आग लग गई। घटना शुक्रवार की शाम पांच बजे की बताई जा रही है। अगलगी से ट्रेन में सवार यात्रियों में हड़कंप मच गया। अफरातफरी के बीच लोग ट्रेन से उतर भागे। सूचना के बाद एडीआरएम, डीएमई, वरिष्ठ मंडल संरक्षा अधिकारी आदि के साथ तकनीकी विशेषज्ञों की टीम मौके पर पहुंची। आग बुझाने पर दो घंटे बाद ट्रेन गंतव्य के लिए रवाना हुई।

पैसेंजर ट्रेन के पहले व दूसरे डिब्बे के पहिए के ब्रेक में आग लगी थी। आग लगते ही पहिए के पास से धुआं निकलने लगा और चहुंओर फैल गया, तभी ट्रेन के चालक समेत अन्य कर्मियों को घटना की जानकारी हुई। उसने ट्रेन रोक दी और ट्रेन में रखे अग्नि शमन यंत्र से आग बुझाना शुरू किया लेकिन एक जगह से आग बुझी तो दूसरी जगह धुआं निकलने लग रहा था। यह देख यात्री भी नीचे उतर चुके थे और पास में रखी पानी की बोतल से आग बुझाने में सहयोग करने लगे। हालांकि एकजुटता का असर दिखा और कुछ देर में आग बुझ गई। कादीपुर स्टेशन मास्टर राणा सिंह ने बताया कि ब्रेक लेते ही ट्रेन में आग लग गई। बेक्र का रबड़ चिपक गया था।

--------

भगदड़ में यात्रियों को आई चोट

अगलगी की घटना जब हुई तो ट्रेन में सवार यात्रियों के बीच हड़कंप मच गया था। ट्रेन से उतरने के लिए भगदड़ सी मच गई और ट्रेन की बोगी से एक-एक नीचे कूदने लगे। रेल ट्रेक किनारे पड़ी गिट्यिों से लोग चोटिल हुए।

Edited By: Jagran