सोनभद्र, जेएनएन। रेणुकूट और चोपन नगर पंचायत के अध्यक्षों की गोली मारकर हुई हत्या के बाद रिक्त हुए पद पर उप निर्वाचन हुआ। 14 जनवरी को हुई मतदान के बाद गुरुवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतगणना करायी गई। इसमें रेणुकूट से चेयरमैन रहे शिव प्रताप सिंह की पत्नी निशा सिंह और चोपन से इम्तियाज अहमद की पत्नी फरीदा बेगम ने जीत हासिल की। मतगणना के बाद रिटर्निंग आफिसर ने चुनाव परिणाम की घोषणा की।

चोपन नगर पंचायत की मतगणना राबर्ट्सगंज तहसील में करायी गई। यहां कुल 11 वार्डों की मतगणना सुबह सात बजे जब शुरू हुई तो पहले ही चक्र से फरीदा बेगम बढ़त बनायी हुईं थी। उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा के प्रत्याशी सत्यप्रकाश अंत तक दूसरे नंबर पर बने रहे लेकिन जीत नहीं हासिल कर सके। दोपहर 12 बजे तक चली मतगणना में फरीदा बेगम को कुल 2873 मत प्राप्त हुए। निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा के सत्य प्रकाश को 2323 मत प्राप्त हुए। यानी फरीदा बेगम 450 मतों से विजयी हुईं। यहां कुल सात प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे। इसी तरह रेणुकूट नगर पंचायत उप चुनाव की मतगणना दुद्धी तहसील में हुई। वहां दोपहर सवा 12 बजे आए परिणाम में निर्दलीय उम्मीदवार निशा सिंह विजयी हुईं। निशा सिंह को कुल 3476 मत प्राप्त हुए। जबकि निकटतक प्रतिद्वंद्वी अनिल सिंह को 1890 मतों से ही संतोष करना पड़ा। निशा सिंह 1586 मतों के अंतर से विजयी घोषित की गईं। यहां भाजपा के शारदा खरवार को करारी हार का सामना करना पड़ा। रेणुकूट से कुल चार प्रत्याशी चुनावी मैदान में थे।

दोनों अध्यक्षों को गोली मारकर हुई थी हत्या

नवंबर 2017 में हुए निकाय चुनाव के बाद रेणुकूट नगर पंचायत से शिव प्रताप सिंह उर्फ बबलू सिंह व चोपन से इम्तियाज अहमद ने जीत हासिल किया था। उसके बाद 25 अक्टूबर 2018 को चोपन नगर पंचायत के अध्यक्ष इम्तियाज अहमद की चोपन के ही ग्रेवाल पार्क में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वहीं रेणुकूट नगर पंचायत अध्यक्ष शिव प्रताप सिंह उर्फ बबलू सिंह की हत्या 30 सितंबर को उनके आवास पर ही गोली मारकर हत्या कर दी गई। इसके बाद से ही दोनों पद रिक्त थे। उप चुनाव में दोनों की पत्नियों ने जीत हासिल कीं।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस