जागरण संवाददाता, आजमगढ़। फूलपुर थाना क्षेत्र के सदरपुर बरौली ग्राम निवासी इब्राहिम (24) पुत्र अजीजुल्लाह थाना क्षेत्र के चकनुरी ग्राम सभा का निवासी है। जानकारी के अनुसार इब्राहिम पुत्र। अजीजुल्लाह को पैसों की जरूरत आन पड़ी तो अपने जानने वाले अंशू गोड़ पुत्र संतलाल निवासी गोबरहा से पैसा की जरूरत बताई। अंशू गोड़ ने अपनी मध्यस्थता में गोबरहा गाव निवासी चंचल विश्‍वकर्मा पुत्र लल्ला विश्‍वकर्मा से इब्राहिम को पचास हजार रुपया दिलवाया।

बदले में गारंटी के रूप में इब्राहिम ने अपनी होन्डा सिटी कार चंचल के यहां रख दी और पैसा लेकर चला आया।परन्तु चंचल आदि उसकी कार को इधर उधर लेकर घूमते रहे। परिवार के लोग भी इब्राहिम पर गाड़ी के लिए दबाव बनाने लगे तो इब्राहिम मध्यथ के साथ चंचल से बात किया तो पचास हजार का पचासी हजार रुपया उसको बताया गया। माना जा रहा है कि संभवत: वारदात को अंजाम देने के बाद अधमरा हाल में रेलवे ट्रैक पर फेंकने का मकसद मौत होने पर ट्रेन से कटकर जान देने की बात होती और आरोपित साफ बच जाते। वहीं सूदखोरों के बुलंद हौसले को देखते हुए पुलिस भी अब सख्‍त कार्रवाई की तैयारी में है।  

बताई गई रकम पचासी हजार रुपए को लेकर गोबरहा देने की बात कह कर निकला और रात दस बजे के करीब थाना क्षेत्र के मनरा गाव के रेलवे ट्रेक पर घायलावस्था में उसे मारपीटकर फेंक दिया गया। जहां पर ग्रामीणों की नजर पड़ी तो पता चला कि इब्राहिम अभी जीवित है। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस व स्थानीय कस्बा वासी घायल इब्राहिम को ताहिर मेमोरियल अस्पताल में भर्ती कराया। जहां इब्राहिम ने पुलिस को वजह और घर का पता बताया। पुलिस व स्थानीय लोगों से जानकारी के बाद परिचित लोग अस्पताल पहुंच गए। इब्राहिम से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस शिकायत के आधार पर आरोपितों के घर पर दबिश दे रही है। गोबरहा से कई लोगों को पुलिस अपने साथ लायी है। पुलिस के अनुसार अभी इस मामले में तहरीर नहीं दी गयी है। शिकायत मिलने के बाद विधिक कार्रवाई शुरू की जाएगी। 

Edited By: Abhishek Sharma