बलिया, जेएनएन। लोकसभा में मुस्लिम महिलाओं के कल्याणार्थ तीन तलाक बिल का विरोध करने वालों को बैरिया विधायक सुरेंद्र सिंह ने चेताया है कि यहां शरीयत कानून लागू नहीं है बल्कि देश का अपना कानून है जो धर्मनिरपेक्ष है। धर्म की आड़ में किसी को भी मनमानी करने की छूट नहीं दी जा सकती है। जो लोग तीन तलाक बिल का विरोध करते हैं उनकी असली मंशा मुस्लिम महिलाओं का शोषण करना है, जो इस देश में अब नहीं हो सकता। ऐसा चाहने वाले लोगों को इस देश को छोड़कर दूसरे देश में जाकर बस जाना चाहिए। जहां शरीयत कानून लागू है।

विधायक शुक्रवार को अपने चांदपुर स्थित आवास पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने सपा, बसपा, टीएमसी हित कई दलों द्वारा लोक सभा में इसका विरोध करने पर कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि अब इनके विषय में कुछ कहा जाय तो वह असंसदीय हो जाएगा। इसलिए इन्हें स्वयं अपने विषय में चिंतन करना चाहिए कि वह हिंदुस्तान को क्यों इस्लामिक देश बनाना चाह रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिंदू समाज में भी सती प्रथा, बहु विवाह सहित कई गलत प्रथा कायम थी, जो बंद हो गई।

मुस्लिम समाज में यह गलत प्रथा है, इस पर रोक लगाना जरूरी है। उन्होंने कहा कि इस बिल का विरोध करने वाले मुसलमान हवाई जहाज से उड़ेंगे, पीने के लिए मिनरल वाटर का उपोग करेंगे, हाईटेक जिंदगी जीएंगे, इस पर वह शरीयत कानून की बात नहीं करते। बहुत हो चुका हमारी सरकार मुस्लिम महिलाओं का शोषण रोकने के लिए प्रतिबद्ध है। इस पर कानून बनाना कहीं से गलत नहीं है।

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस