जौनपुर, जागरण संवाददाता। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने विपक्षियों पर प्रहार करते हुए कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में चाहे सपा, बसपा व कांग्रेस एक हो जाए, फिर भी भाजपा 325 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज करेगी। सपा-बसपा पर कटाक्ष करते हुए कहा कि बुआ-भतीजे का कहना है कि छोटे दलों को मिलाकर सरकार बनाएंगे। पहले खुद अपने किए गए कार्यों की समीक्षा करें। कोरोना जैसे संकट काल में केवल भाजपा कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतरकर लोगों की मदद की। सपा, बसपा व कांग्रेस के कार्यकर्ता केवल ट्वीटर पर ट्वीट करते रहे। यह बातें उन्होंने मंगलवार को टीडी डिग्री कालेज के मैदान पर 245 सड़क व पुल-पुलिया के लोकार्पण व शिलान्यास के अवसर पर कही।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार ने जितना विकास कार्य 52 महीने में कर दिखाया, उतना बुआ-भतीजे की सरकार ने 15 सालों में नहीं किया। इनकी सरकार में बिजली, सड़क, योजनाओं में जमकर बंदरबाट किया गया। राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि राहुल का ट्रैक्टर चलाना केवल दिखावा है। वह किसान, मजदूर का दर्द नहीं जानते। कभी वह खेत में जाकर हल या ट्रैक्टर से जोताई करें, खेत के कोनों की गोड़ाई करेंगे तब उन्हें असली दर्द का पता चलेगा। उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत में ही कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि जब उनके नेतृत्व में 2017 में भाजपा की सरकार बनी तो पहला लक्ष्य था कि कार्यकर्ताओं का सम्मान हो। यहां जितने भी पुलिस व प्रशासन के अधिकारी हैं इस बात का पूरा ध्यान रखें कि अगर मैं डिप्टी सीएम बना हूं तो कार्यकर्ताओं की बदौलत, ऐसे में इनकी बातों को डिप्टी सीएम की बात ही समझी जाए।

भाजपा काशी प्रांत के अध्यक्ष महेश चंद्र श्रीवास्तव ने कहा कि पार्टी के बताए रास्ते पर कार्यकर्ता चलने का काम करें। राज्यमंत्री गिरीश चंद्र यादव ने कहा कि आगामी चुनाव में प्रचंड बहुमत से सरकार बनेगी। बदलापुर विधायक रमेश चंद्र मिश्र ने कहा कि भाजपा ने अपने उद्देश्यों पर खरा उतरते हुए केवल विकास का कार्य किया। इसके पूर्व डिप्टी सीएम ने मंच से 253 करोड़ रुपये के 245 कार्यों व परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया। इस मौके पर जफराबाद विधायक डाक्टर हरेंद्र प्रसाद सिंह, मड़ियाहूं विधायक डाक्टर लीना तिवारी, पूर्व सांसद डाक्टर केपी सिंह, जिलाध्यक्ष जौनपुर पुष्पराज सिंह, जिलाध्यक्ष मछलीशहर रामविलास पाल, डीसीएफ चेयरमैन धनंजय सिंह आदि मौजूद रहे। संचालन सुशील मिश्र ने किया।

 

Edited By: Saurabh Chakravarty