वाराणसी : 'दैनिक जागरण' का महाभियान 'मिशन हजार टन' धीरे-धीरे जनसहभागिता का रूप ले रहा है। लोग स्वच्छता की आहुति में अपना योगदान बढ़-चढ़कर दे रहे हैं, वे अब महाभियान का हिस्सा भी बनने लगे हैं। गुरुवार को सुबह शिवपुर सफाई चौकी के समीप स्थित मिनी स्टेडियम में सघन कचरा सफाई अभियान चला। नगर निगम के सहयोग से कूड़े की सफाई की गई।

शिवपुर के पूर्व पार्षद राजनाथ यादव व नारायनपुर वार्ड के पूर्व पार्षद शिवशंकर यादव ने भी झाड़ू उठाकर सफाई कार्य किया। जगह-जगह बिखरे कूड़े लोगों ने खुद भी साफ किए। बाकी रही कसर नगर निगम के सफाईकर्मियों ने पूरी कर दी। स्वच्छता का यह महाभियान सड़कों पर दो किलोमीटर तक चला। मंदिर से लेकर सब्जी मंडी तक कूड़े की सफाई की गई। लोगों को सफाई का संकल्प भी दिलाया गया। शाम को यहां पर नुक्कड़ नाटक भी आयोजित किया गया, जहां लोगों को स्वच्छता के बारे में जागरूक करने की कोशिश की गई।

----------

उठाई झाड़ू तो जाग उठी उम्मीदें

नगर आयुक्त डा. नितिन बंसल के निर्देशन में चला अभियान लोगों के बीच खासा असर दिखा गया। वरुणापार जोनल प्रभारी पीके द्विवेदी व सफाई निरीक्षक महेंद्र यादव के नेतृत्व में चले अभियान में एक दर्जन सफाई कर्मियों ने हिस्सेदारी की। कियाना सोल्यूशन एंड सर्विसेज के डिप्टी सीईओ शार्दूल विक्रम सिंह व शैलेंद्र मिश्रा ने भी झाड़ू उठाकर कचरा सफाई कार्य में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। इसके अलावा नगर निगम कर्मियों व स्थानीय लोगों ने इलाके में दोबारा गंदगी न फैलने का भी संकल्प लिया, सभी ने जनता से वादा किया कि वह इलाके को स्वच्छ रखेंगे।

---------

चाय पार्टी में लेते रहे चुस्कियां

सफाई के बाद शाम को चाय पार्टी का आयोजन किया गया, जहां लोगों ने स्वच्छता का सबक लेते हुए चाय की चुस्कियों का आनंद लिया। सभी ने महसूस किया कि खुद सचेत हों तो गंदे स्थान को भी साफ-सुथरा बनाकर इस तरह के आयोजन किए जा सकते हैं। गंदगी का माहौल दूर करते हुए स्वच्छ काशी व सुंदर काशी बनाने की मिसाल पेश हो सकती है।

Posted By: Jagran