वाराणसी, जागरण संवाददाता। काशी में दशाश्वमेध घाट स्थित गंगा सेवा निधि द्वारा होने वाली विश्व प्रसिद्ध मां गंगा की नैत्यिक महाआरती शनिवार की शाम टीम इंडिया के नाम रही। मां गंगा से काशी वासी व गंगा सेवा निधि ने मां गंगा के तट पर दीपों से 'विजयी भवः' लिख कर काशी से टीम इंडिया को शुभकामनाएं दींं। गंगा सेवा निधि के अध्यक्ष सुशांत मिश्रा ने टीम इंडिया व कल होने वाली इंडिया पाकिस्तान मैच के लिए भी टीम इंडिया के सभी खिलाड़ियों को शुभकामनाएं दींं। इस दौरान संस्था के सचिव हनुमान यादव, कोषाध्यक्ष आशीष तिवारी आदि मौजूद रहे।

टीम इंडिया के पाकिस्तान से टी20 के पहले मुकाबले में जीत के लिए गंगा आरती में दीपमालाओं के साथ प्रार्थना की गई तो वहां मौजूद लोग भी आस्था के सागर के साथ क्रिकेट के बुखार में डूब गए। टी 20 वर्ल्ड कप में भारत का पहला मुकाबला पाकिस्तान से होने वाला है। जिसके पहले दुवाओं और प्रार्थना का दौर शुरू हो चुका है।

वाराणसी के विश्व प्रसिद्ध दशाश्वमेध गंगा घाट किनारे होने वाली दैनिक संध्या आरती में भी श्रद्धालुओं और भारतीय क्रिकेट टीम के प्रशंसकों ने गंगा आरती के दौरान दीपमालाओं से विजयी भवः सजाकर और टीम इंडिया के खिलाड़ियों की तस्वीरों को लेकर भारतीय क्रिकेट टीम की जीत के लिए प्रार्थना और उत्‍साहवर्धन किया। वाराणसी के दशाश्वमेध घाट पर होने वाले विश्व प्रसिद्ध गंगा आरती में शनिवार की शाम का नजारा कुछ खास था। क्योंकि रोज होने वाली गंगा आरती में देश भक्ति का रंग भी घुला मिला हुआ था। आरती के दौरान भारतीय क्रिकेट टीम का न केवल बैनर लगा हुआ देखा गया, बल्कि क्रिकेट टीम के अलग-अलग खिलाड़ियों की तस्वीरों को भी क्रिकेट प्रशंसकों और श्रद्धालुओं ने अपने हाथों में ले रखा था।

इस दौरान वही गंगा घाट किनारे विजई भवः को दीपमालाओं से भी उकेरा गया था। पूरे आरती के दौरान मां गंगा से भक्तों ने टीम इंडिया की जीत के लिए प्रार्थना की और पाकिस्तान के खिलाफ हमेशा जारी रखने वाले विजय रथ को आगे बढ़ते रहने की भी मां गंगा से कामना की। इस दौरान ना केवल आरती आयोजकों, बल्कि आम श्रद्धालुओं ने भी भारत- पाकिस्तान मैच के लिए बेसब्री जाहिर करते हुए टीम इंडिया को विजयी बनाने के लिए दीप जलाकर प्रार्थना की।

Edited By: Abhishek Sharma