गाजीपुर, जेएनएन। मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तारी अंसारी के करीबी जिलाबदर करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के महेंद निवासी मेहरूद्दीन खां उर्फ नन्हें को पुलिस ने शुक्रवार को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। उसे बचाने के आरोप में करीमुद्दीनपुर थानाध्यक्ष रामनेवास, उपनिरीक्षक संजय कुमार सरोज व बीट आरक्षी धीरेंद्र नाथ पांडेय को एसपी डा. ओपी ङ्क्षसह ने निलंबित कर दिया। जिला बदर किए जाने के बावजूद वह घर पर ही रह रहा था और करीमुद्दीनपुर थाना उसके जिले की सीमा से बाहर होने की रिपोर्टिंग कर रहा था। आवश्यक कार्रवाई के बाद मेहरूद्दीन को जेल भेज दिया गया।

मेहरूद्दीन मुख्तार गैंग का सक्रिय सदस्य है। उसे पिछले नौ अप्रैल को जिला बदर घोषित किया गया था। इसके बाद भी वह घर पर रह रहा था। एसपी ने मेहरूद्दीन की चेकिंग करने का निर्देश थानाध्यक्ष को दिया गया था। इस पर थानाध्यक्ष ने रिपोर्ट दी कि उक्त अपराधी जिले की सीमा में नहीं है, जबकि एसपी को उसके जिले में होने की सूचना थी। इस पर उन्होंने मुहम्मदाबाद सीओ राजीव द्विवेदी व कासिमबाद सीओ विजय आनंद साही को उसे गिरफ्तार करने का निर्देश दिया। दोनों सीओ पांच थानों की पुलिस फोर्स पीएसी के साथ महेंद स्थित उसके घर पहुंच गए। पुलिस को देख वह कोने में छिप गया। उसे गिरफ्तार कर थाने लाते समय गांव की दर्जनों की संख्या में महिलाओं ने हो-हल्ला मचाते हुए पुलिस का रास्ता रोकने की कोशिश की। हालांकि उनकी एक न चली। करीब एक वर्ष पूर्व बलिया जनपद के चितबड़ा थाने की पुलिस ने अवैध खनन में नन्हें को गिरफ्तार किया था। टीम में भांवरकोल, मुहम्मदाबाद, नोनहरा, बरेसर व करीमुद्दीनपुर थाने की पुलिस रही।

जिलाबदर नन्हें को उसके घर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है

जिलाबदर नन्हें को उसके घर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। एसओ सहित तीन को निलंबित कर दिया गया है।

-डा. ओमप्रकाश सिंह, पुलिस अधीक्षक।

 

Edited By: Saurabh Chakravarty