जौनपुर, जेएनएन। लाइन बाजार थाना क्षेत्र के जगदीशपट्टी में गुरुवार की शाम दुकान में आक्सीजन सिलेंडर फटने से भीषण हादसा हो गया। भयावह विस्फोट में दो दुकानें जमींदोज हो गईं जिसके मलबे में दबने से पांच लोगों की मौत हो गई जबकि पांच गंभीर रूप से घायल हो गए। देर शाम तक दो मृतकों की पहचान हो गई। इनमें प्रेम प्रकाश सिंह (35) निवासी ग्राम खजुरहवां और रामयश यादव (45) निवासी मोकलपुर कोतवाली मडिय़ाहूं हैं। डीएम अरविंद मलप्पा बंगारी व एसपी आशीष तिवारी मौके पर पहुंच गए। सरकारी अमला मौके पर राहत व बचाव कार्य में जुटा रहा।

हादसे के बाद राहत और बचाव कार्य :  मलबे में दबे सात लोगों को निकालकर पुलिस ने आनन-फानन जिला अस्पताल भेजा। वहां दो ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। राहत व बचाव में जुटी टीम ने देर शाम करीब सात बजे मलबे से तीन और शव निकाले। देर रात तक मृतकों की शिनाख्त नहीं हो सकी है। मृतकों में से एक के शरीर का कमर के पास से दो टुकड़ों में बंट गया था। घायलों में कु. अंशू यादव (17) पुत्री शोभनाथ यादव, कु. ज्योति यादव (19) पुत्री लक्ष्मी शंकर यादव निवासी जमैथा, महताब आलम (24) निवासी कजगांव नई बाजार थाना जफराबाद, संजय (38) निवासी कटहरा थाना जलालपुर व महेंद्र गिरि (52) निवासी सादीपुर (सिरकोनी) थाना जलालपुर हैं। 

धमाके में दुकान हुई जमींदोजजगदीशपट्टी स्थित सिंह आक्सीजन गैसेज में सायंकाल करीब पांच बजे तेज धमाके के साथ आक्सीजन सिलेंडर फट गया। धमाका इतना जोरदार था कि दुकान जमींदोज हो गई और आसपास की दुकानें भी उसकी जद में आ गईं। दुकान के मलबे में मौजूद लोग ही नहीं बल्कि राहगीर भी दब गए। हादसे के बाद माैके पर अफरा-तफरी मच गई। खबर लगते ही पुलिस और अग्निशमन दस्ता मौके पर पहुंच कर राहत और बचाव कार्य में जुट गया।

शासन की ओर से सहायता राशि : मृतक आश्रितों को दो लाख, घायलों को 50 हजार राहत की घोषणा राज्‍य सरकार की अोर से की गई है। जिलाधिकारी अरविंद मलप्पा बंगारी ने बताया कि शासन स्तर से मृतकों के परिवार को दो दो लाख रूपये की आर्थिक सहायता व 50- 50 हजार दिए जाएंगे। इस बारे में शासन को अवगत जिला प्रशासन की ओर से कराया जाएगा।

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस