वाराणसी, जेएनएन। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ प्रशासन 12 नवंबर को आयोजित होने वाले दीक्षा समारोह को भव्य रूप देने में जुटा हुआ है। शनिवार को भी विश्वविद्यालय के समस्त कार्यालय खुले रहे। पूरे दिन समारोह की तैयारी की समीक्षा होती रही। उधर महिला छात्रावास के पास दीक्षा मंडप बनाने का कार्य भी तेज कर दिया गया है। इस वर्ष भी जर्मन हैंगर तकनीक से पंडाल बनाया जा रहा है। इसमें करीब 2000 लोगों के बैठने की व्यवस्था होगी।

आज भी खुलेगा कार्यालय 

काशी विद्यापीठ में 10 (रविवार) व 11 नवंबर को भी समस्त कार्यालय खुले रहेंगे। कुलसचिव डा. एसएल मौर्य ने बताया कि 12 नवंबर को आयोजित 41वें दीक्षा समारोह के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है। 

दीक्षा की शाम सांस्कृतिक कार्यक्रमों के नाम 

विश्वविद्यालय में दीक्षा समारोह की शाम सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया है। इस दौरान विश्वविद्यालय व संबद्ध कालेजों के छात्र-छात्राएं विविध रंगारंग कार्यक्रमों की प्रस्तुति देंगे। 

पूर्वाभ्यास कल 

दीक्षा समारोह का पूर्वाभ्यास 11 नवंबर को सुबह 11 बजे से होगा। इस दौरान कुलपति प्रो. टीएन सिंह 125 शोधार्थियों को शोध की उपाधि प्रदान करेंगे। पूर्वाभ्यास में शिष्ट मंडल के सदस्यों व गोल्ड मेडलिस्ट छात्रों को भी बुलाया गया है। 

नैक के निदेशक होंगे मुख्य अतिथि 

दीक्षा समारोह के मुख्य अतिथि अब नैक के निदेशक प्रो. एससी शर्मा होंगे। वहीं अध्यक्षता कुलाधिपति/राज्यपाल आनंदीबेन पटेल करेंगी।

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस