बलिया, जागरण संवाददाता। विपरीत धर्म की युवती को बुर्का पहनाकर बुधवार को कलेक्ट्रेट में शादी करने पहुंचे मुस्लिम युवक को शक के आधार मौजूद लोगोें ने पकड़ लिया। इसको लेकर युवक ने लोगों के साथ काफी देर तक बकझक भी किया, जिसका एक वीडियो भी वायरल हो गया। लोगों की पूछताछ में ही स्पष्ट हुआ कि यह मामला लव जेहाद का है। कोतवाली पुलिस सक्रियता दिखाते हुए युवती को सुरक्षित करते हुए आरोपित पड़री निवासी दिलशाद को हिरासत ले लिया। इसकी खबर मिलते ही युवती के परिजनों के होश उड़ गए।

तीन माह पहले स्वजातीय युवक से हुई थी

की शादी तीन माह पहले स्वजातीय युवक से हुई थी, लेकिन वह ससुराल में तीन दिन रहने के बाद अपने मायका वापस आ गई। इधर दो दिन पहले वह अचानक घर से गायब हो गईं। स्वजन उभांव थाने में इसकी तहरीर भी दिए थे। मुस्लिम युवक के साथ पकड़े जाने का मामला सामने आने के बाद उभांव पुलिस ने आनन-फानन युवक के खिलाफ बहला-फुसलाकर शादी करने और धर्म परिवर्तन कराने के आरोप में नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया है। युवती अत्यंत गरीब परिवार से है। पिता रिक्शा चलाते हैं। कुल छह भाई-बहनों में यह पांचवीं संतान हैं। परिजनों ने तहरीर में युवती की उम्र 18 साल दर्ज की है। पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

लव जेहाद से जुड़ा है यह मामला

लव जेहाद या जिहाद मुस्लिम पुरुषों द्वारा गैर-मुस्लिम समुदायों से जुड़ी महिलाओं को इस्लाम धर्म में परिवर्तित कराने के लिए प्रेम का ढोंग रचना है। लव जिहाद दो शब्दों से मिलकर बना है। अंग्रेजी भाषा का शब्द लव यानि प्यार, मोहब्बत या इश्क और अरबी भाषा का शब्द जिहाद। जिसका मतलब होता है किसी मकसद को पूरा करने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा देना।

जब एक धर्म विशेष को मानने वाले दूसरे धर्म की लड़कियों को अपने प्यार के जाल में फंसाकर उस लड़की का धर्म परिवर्तन करवा देते हैं तो इस पूरी प्रक्रिया को लव जेहाद का नाम दिया जाता है। यह मामला भी लव जेहाद से जुड़ा प्रतीत होता है, ऐसा पुलिस भी मानती है, लेकिन युवती के स्वजनों या युवती की ओर से इस तरह के आरोप नहीं होने की स्थिति में पुलिस ने युवती को बहला-फुसलाकर भगाने के आरोप में मुकदमा पंजीकृत किया है।

युवक और युवती से पूछताछ की गई

युवक और युवती से पूछताछ की गई है। परिजनों ने लव जेहाद से संबंधित अपनी तहरीर नहीं दी है। युवक के खिलाफ बहला-फुसला कर भगाने के आरोप में मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

-ज्ञानेश्वर मिश्र, एसएचओ, उभांव

 

Edited By: Saurabh Chakravarty