वाराणसी, जेएनएन। द्वादश ज्‍योतिर्लिंगों में से एक बाबा काशी विश्‍वनाथ दरबार में सावन माह से ही चल रहा गर्भगृह में आस्‍थावानों का प्रवेश प्रतिबंध आखिरकार हट गया है। गुरुवार को गर्भगृह में प्रवेश प्रतिबंध हटने के बाद श्रद्धालुओं ने बाबा दरबार में हाजिरी लगाई और बाबा को नमन करने के साथ हर हर महादेव का नारा लगाया। हालांकि बाबा दरबार स्थित गर्भगृह में दुग्‍धाभिषेक सहित अन्‍य पूर्ववर्ती प्रतिबंध जारी रहेंगे।   

दरअसल सावन माह भर आने वाले लाखों श्रद्धालुओं को नियंत्रित करने के लिए मंदिर प्रशासन की ओर से गर्भगृह में प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया था। लंबे समय से बाबा दरबार में सावन के बाद से ही प्रतिबंध हटाने की मांग की जा रही थी। आखिरकार मंदिर प्रशासन ने नवरात्र के मौके पर बाबा दरबार में गर्भगृह तक भक्‍तों के प्रवेश और दर्शन पूजन की अनुमति दे दी। इसके बाद भक्‍तों की कतार भी मंदिर में नजर आई और नवरात्र पर बाबा के दर्शन कर लोगों ने पुण्‍य भी कमाया।

गुरुवार को दोपहर बाद बाबा दरबार में भोग आरती करने के बाद आम श्रद्धालुओं को गर्भगृह में प्रवेश दिया गया। वहीं लंबे समय बाद बाबा दरबार में गर्भगृह तक प्रवेश मिलने से आस्‍थावानों में भी काफी खुशी का माहौल रहा। वहीं भक्‍तों ने भी गर्भगृह में प्रवेश कर हर हर महादेव का नारा लगाकर बाबा विश्‍वनाथ का विधि विधान पूर्वक दर्शन पूजन किया। दूसरी ओर मंदिर के गर्भ्रगृह में सुरक्षा व्‍यवस्‍था भी इस दौरान चुस्‍त दुरुस्‍त रही। वहीं भक्‍तों का गर्भगृह में पूजन का लाइव प्रसारण भी जारी किया गया। 

Posted By: Abhishek Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप