वाराणसी, जेएनएन। जनपद में बदमाशों ने एक बार फिर पुलिस के लिए चुनौती बनते जा रहे हैं। कोतवाली थाना अंतर्गत ब्रह्मा घाट पर बुधवार शाम तीन बदमाशों ने युवक को गोली मार दी। गोलियों की आवाज सुनकर जब लोग पहुंचे तो युवक जमीन पर गिरा था। आनन-फानन में घायल को मलदहिया स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। सूचना मिलने पर एसपी सिटी समेत पुलिस फोर्स अस्पताल पहुंची।

युवक को तीन गोलियां लगी हैं, जिस कारण उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। पुलिस के अनुसार, प्रथमदृष्टया गोली चलने का कारण सट्टेबाजी के पैसे का लेन-देन है। कोतवाली थाना अंतर्गत ब्रह्मा घाट निवासी विजय यादव उर्फ विज्जू (37) अपने ननिहाल थाना लक्सा के सूरजकुंड में रहता है।  कई वर्षो से भैरवनाथ मंदिर के पास साड़ी की दुकान है। ब्रह्मा घाट स्थित मकान में चार किरायेदारों से कई सालों से विवाद भी चल रहा है, जिसको लेकर कोर्ट में मुकदमा भी चल रहा है। बुधवार की शाम करीब चार बजे वह अपने निवास ब्रह्मा घाट पर था तभी वहां आए तीन बदमाशों ने गोलियों की बौछार कर दी। जिसके बाद विजय यादव वहीं जमीन पर गिर पड़ा और बदमाश हथियार लहराते हुए फरार हो गए। जख्मी हालत में विजय को एक निजी अस्पताल में ले जाया गया, जहां डाक्टरों ने बताया कि उसे तीन गोलियां लगी हैं। एक गोली आरपार हो गई है, जबकि दो गोलियां फसी हुई है। इसके लिए आपरेशन करना पड़ेगा। वहीं सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची। एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह ने अस्पताल पहुंचकर घायल का हालचाल जाना। पुलिस को दिए बयान में विजय ने बताया कि उसका सट्टेबाजी के पैसे को लेकर राजू याजव उर्फ डाक्टर व भैयालाल पहलवान से विवाद चल रहा है। उसका करीब दो लाख पचास हजार रुपये दोनों नहीं दे रहे हैं। जब उसने दबाव बनाया तो करीब छह माह पूर्व उन्होंने जेल में बंद अपराधी राजेश उर्फ खुटे से फोन कराया। फोन पर उसने धमकी दी थी कि सट्टेबाजी के पैसे हैं, भूल जाओ। उसने आरोप लगाया कि इसी मामले को लेकर बुधवार शाम तीन बदमाशों ने उन पर गोलियां चलाई हैं।

सख्ती के बावजूद नहीं मान रहे सट्टेबाज

कई बार सट्टेबाजी के कारण परिवारों के बर्बाद होने की खबरें सामने आती हैं। इसके बावजूद सट्टेबाज मानते नहीं हैं और खुद के साथ अपने परिवार को भी दांव पर लगा देते हैं। बुधवार शाम की घटना ने एक बार फिर से पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर दिए हैं। सख्ती का दावा करने के बाद शहर में खुलेआम सट्टेबाजी का धंधा चल रहा है, लेकिन कोई रोकने वाला नहीं है।  वहीं जिले में पहले भी सट्टे में पैसा हारने के बाद हत्या व आत्महत्या की दर्दनाक घटनाएं हो चुकी हैं।

गोलियां तड़तड़ाने पर दहशत में लोग

बदमाशों ने जिस तरह ब्रह्मा घाट पर दिनदहाड़े तीन बदमाशों ने आकर युवक पर ताबड़तोड़ गोलियां चलानी शुरू कर दी, उसके बाद आसपास के लोग दहशत में आ गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बदमाश गोली चलाने के बाद हवा में पिस्टल लहराते हुए फरार हो गए। गोलियों की आवाज सुनकर पहुंचे लोगों ने घायल को अस्पताल पहुंचाया और पुलिस को सूचना दी। मामले में पुलिस सीसीटीवी कैमरे को खंगाल रही है, ताकि पता चल सके कि आरोपित कैसे आए थे और किधर फरार हुए।

चुनाव की तैयारी कर रहा था बिज्जू तीन भाइयों में दूसरे नंबर का विजय यादव उर्फ बिज्जू की अब तक शादी नहीं हुई थी। इस बार राजमंदिर से पार्षद पद का चुनाव लडऩे की तैयारी कर रहा था। इसको लेकर क्षेत्र में उसने विभिन्न जगहों पर पोस्टर भी चस्पा कर दिए हैं। इसको लेकर भी कयास लगाए जा रहे हैं कि पार्षद चुनाव लडऩे की तैयारी करना कहीं विजय के लिए घातक तो नहीं हो गया। वहीं अस्पताल पहुंची बिज्जू की मां का रो-रोकर बुरा हाल था।

राम जानकी मंदिर की गली में अधिक समय बिताता था बिज्जू

ब्रह्मा घाट राम जानकी मंदिर के बगल वाली गली में बुधवार शाम को बदमाशों ने विजय यादव उर्फ बिज्जू को पेट में तीन गोली मार दी। वहीं लोगों का कहना है कि बिज्जू अधिक समय राम जानकी मंदिर की गली में ही गुजारता था। वहीं मां मीरा देवी, बड़े भाई संजय यादव व छोटे भाई बाबू यादव का रो-रोकर बुरा हाल था। बड़े भाई संजय यादव ने भी बताया कि मामला सट्टेबाजी के ढाई लाख के लेन-देन का है।।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस