बरसठी (जौनपुर) : थाना क्षेत्र के सुखलालगंज बाजार में शुक्रवार की रात एक मकान का बारजा ढह गया। जिससे उसके मलबे में दबने से एक अधेड़ की मौके पर ही मौत हो गई जबकि उसकी नातिन गंभीर रूप से जख्मी हो गई। परिजनों ने पुलिस को सूचना दिए और पोस्टमार्टम कराए बगैर लाश की अंत्येष्टि कर दी।

सुखलालगंज बाजार निवासी अमृत लाल (52) अपनी नतिनी काजल के साथ शुक्रवार की रात चबूतरे पर सोए हुए थे। रात करीब 11.30 बजे बारजा अचानक धराशायी हो गया। जिससे उसके नीचे सो रहे अमृत लाल और उनकी नतिनी मलबे के नीचे दब गए। बारजा ढहने से हुई आवाज सुनकर परिजन और आस- पास के लोग जुट गए। उन्होंने मलबा हटाकर दोनों को बाहर निकाला लेकिन तब तक अमृत लाल की मौत हो चुकी थी। सिर में गंभीर चोट आने से बुरी तरह से घायल काजल को परिजन आनन- फानन उपचार के लिए भदोही के एक निजी हास्पिटल में ले गए। वहां उसकी हालत गंभीर लेकिन खतरे से बाहर बताई जा रही है। हादसे की सूचना पर यूपी- 100 के सिपाही तो आए लेकिन घटना के बारे में सामान्य जानकारी दर्ज कर वापस भी चले गए। कोई भी लिखा पढ़ी न होने की वजह से परिजनों ने पोस्टमार्टम कराए बिना ही शव का दाह संस्कार कर दिया। हालांकि दूसरी ओर हादसे की सूचना पाकर मड़ियाहूं की अपना दल (एस) की विधायक लीना तिवारी ने रविवार की सुबह मौके पर पहुंच कर मृतक के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना जताते हुए व्यक्तिगत तौर पर पचीस हजार रुपये की आर्थिक मदद दी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस