वाराणसी (जेएनएन) । जाम से निजात के लिए नगर निगम के अधिकारी खुद सड़क पर अतिक्रमण कराकर जाम के हालात पैदा कर रहे हैं। शहर में वेडिंग जोन के लिए गलत जगह निर्धारित करने से जाम से छुटकारा मिलने की बजाय मुसीबत और बढ़ रही है। दुर्गाकुंड के पास भी वेंडिंग जोन ने मुश्किल बढ़ा दी है। प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र स्मार्ट सिटी वाराणसी में तमाम बाजारों और प्रमुख सड़कों पर चाय, नाश्ते, पान, जूस-फल के ठेलों से यातायात बाधित होता है। इसी वजह से नगर निगम ने शहर में करीब डेढ़ दर्जन स्थानों पर वेंडिंग जोन तैयार करने का फैसला किया ताकि ठेले वाले उन्हीं स्थानों पर दुकान चलाएं।

जाम खत्म करने के इरादे से पहला वेडिंग जोन दुर्गाकुंड इलाके में आनंद बाग के सामने सड़क की पटरी पर बनाया गया है लेकिन नगर निगम का यह फैसला अब राहगीरों के लिए कोढ़ में खाज साबित हो रहा है। आनंद बाग के सामने वाली सड़क वैसे भी संकरी है। अब उस पार्क से सटाकर आठ फुट तक वेडिंग जोन के लिए दुकानें निर्धारित कर नगर निगम ने आधी सड़क ही खत्म कर दी। नतीजा यह कि जाम का इलाज होने की बजाय मर्ज और बढ़ गया है। पार्क की खूबसूरती भी खत्म हो रही है। क्षेत्रीय पूर्व पार्षद अनिल शर्मा और सामाजिक कार्यकर्ता रामयश मिश्र ने कहा कि नगर निगम जाम और बढ़ा रहा है। वेंडिंग जोन चौड़ी सड़क पर बनना चाहिए न कि ऐसे संकरे मार्ग पर। इस पर नए सिरे से फैसला हो ताकि शहर वासियों को नित्य झेलने वाली दुश्वारियों से निजात मिल सकेगी।