वाराणसी : भीषण गर्मी में दूषित पेयजल आपूर्ति और सीवर जाम से नाराज समाजवादी पार्टी के जिला व महानगर इकाई के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को कमच्छा स्थित जलकल कार्यालय पर हल्लाबोल पोल-खोल प्रदर्शन कर सभा की। प्रदर्शनकारी हाथ में खाली बाल्टी, सुराही और बोतल में दूषित पानी लेकर पहुंचे थे। उन्होंने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने अफसरों पर मनमानी का आरोप भी लगाया।

इस दौरान हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि भीषण गर्मी में पूरे शहर में पानी के लिए हाहाकार मचा है। शहर के कई मुहल्लों में दूषित पेयजल आपूर्ति हो रहा है। दूषित पानी पीने से लोग बीमार हो रहे हैं। कई मुहल्लों में तो लोगों को पेयजल भी नसीब नहीं हो पा रहा है, फिर भी जलकल अभियंताओं का दावा है कि शहर में सब कुछ सामान्य है जबकि कार्यालय में बने कंट्रोल रूम में रोज 15 से 20 शिकायतें दूषित जलापूर्ति को लेकर की जाती हैं। दूसरी ओर शहर में सीवर लाइन जाम होने से गंदा पानी सड़कों पर बह रहा है। इसके चलते राहगीरों का गुजरना मुश्किल हो गया है। कहा कि प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में यह हाल है तो दूसरे शहरों में क्या हाल होगा, इसका सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। करोड़ों रुपये खर्च होने के बाद भी शहरवासियों को पानी नहीं मिलना कहीं न कहीं भ्रष्टाचार को उजागर करता है। शीघ्र पेयजल आपूर्ति व्यवस्था नहीं सुधरी तो अनिश्चितकालीन आंदोलन किया जाएगा। जलकल अभियंता की सूचना पर भेलूपुर थाना प्रभारी अनुपम श्रीवास्तव भारी फोर्स के साथ मौजूद थे। सभा में जिलाध्यक्ष डा. पीयूष यादव, महानगर अध्यक्ष राजकुमार जायसवाल, पूर्व पार्षद वरुण सिंह, कमल पटेल, सत्यप्रकाश सोनकर सोनू, हारून अंसारी, विवेक यादव, जितेंद्र यादव, रमेश राजभर समेत दर्जनों लोग शामिल थे।

इन क्षेत्रों के लोग रहे मौजूद

सुंदरपुर, नगवां, नरिया, मध्यमेश्वर, सोनिया, लल्लापुरा, जंगमबाड़ी, सोनारपुरा आदि।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस