वाराणसी, जेएनएन। शासन ने कोराना वायरस से लडऩे के लिए 2.50 लाख रुपये नगर निगम को जारी किया है। साथ ही रामनगर नगर पालिका को साठ हजार की धनराशि भेजी गई है। उधर, नगर निगम प्रशासन ने नगर निगम अधिनियम की धारा 117 (6)(ख) का प्रयोग करते हुए गुरुवार को सभी वार्डों में जीवाणु और विषाणु रोधी दवाओं के छिड़काव के लिए छोटी मशीनों की खरीदारी की जा रही है।

अपर नगर आयुक्त देवी दयाल वर्मा ने बताया कि पहले से नगर निगम के पास इस तरह के 35 मशीनें हैं। इससे छिड़काव किया जा रहा है। कोरोना को लेकर नगर निगम में दिनभर चर्चा होती रही। लोग सतर्कता और एहतियात के लिए एक दूसरे से विचारों का आदान प्रदान करते रहे। उधर, वरुणापार के जोनल अधिकारी पीके द्विवेदी ने बताया कि एसीएम चतुर्थ शुभांगी शुक्ला के नेतृत्व में सुबह से ही क्षेत्र में लोगोंं को कोरोना के प्रति जागरूक किया गया। साथ ही ध्वनि विस्तारक यंत्रों से लोगों को एहतियात बरतने के लिए निर्देश देते दिया गया। जागरूकता और सतर्कता के लिए दो सौ से अधिक पंफ्लेट बांटे गए। उन्होंने बताया कि सुबह से ही विभिन्न क्षेत्रों में सोडियम हइपो क्लोराइड और मैलाथियान का छिड़काव किया जा रहा है।

दस मिनट में पहुंचेगी क्यूआरटी

नगर आयुक्त गौरांग राठी ने गुरुवार को सिगरा स्थित भारत माता मंदिर से क्यूआरटी टीम को जोनल कार्यालयों पर रवाना किया। उन्होंने बताया कि जोनल क्षेत्र में कहीं भी गंदगी या विशेष स्थिति की सूचना मिलने पर टीम

दस मिनट में मौके पर पहुंच जाएगी। इसके लिए टीम को जोनल कार्यालयों पर रहने के लिए कहा गया है।

जानवरों को घर से बाहर छोड़ा तो दर्ज होगी प्राथमिकी

वरुणापार के जोनल अधिकारी पीके द्विवेदी ने बताया कि जोनल क्षेत्र में कई स्थानों से सूअर और पशुओं से दिक्कत की सूचना मिल रही है। इसे देखते हुए पालकों को सख्त हिदायत दी गई है। कोई भी पशु बाहर मिला तो उनके स्वामियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस