वाराणसी, जेएनएन। गेल इंडिया लिमिटेड का शहर में सातवां सीएनजी स्टेशन ताज होटल नदेसर के सामने शुरू हो गया है। इससे पहले शहर के विभिन्न हिस्सों में छह सीएनजी स्टेशन संचालित हो रहे हैं। अन्य तीन सीएनजी स्टेशनों पर कार्य तेजी से चल रहा है, जो मार्च के अंत शुरू हो जाएंगे।

गेल के उप महाप्रबंधक गौरी शंकर मिश्रा व मार्केटिंग इंचार्ज सुरेश तिवारी ने बताया कि सीएनजी के द्वारा ऑटो चालकों को लगभग 50 फीसद की बचत हो रही है। प्राइवेट कार को पेट्रोल की तुलना में प्रति किलोमीटर दो रुपये से अधिक की बचत हो रही है। साथ ही  परंपरागत ईंधनों की तुलना में बहुत ही स्वच्छ ईंधन है इससे वाराणसी के प्रदूषण के स्तर को भी नीचे लाने में बहुत अधिक मदद मिल रही है। अभी हाल में ही प्रशासन द्वारा जिले के सभी शैक्षिक संस्थानों को यह दिशा निर्देश जारी किए गए हैं कि वे जो भी नई बसें खरीदें वह सभी सीएनजी चालित ही हो। अपनी मौजूदा बसों को जल्द से जल्द सीएनजी में परिवर्तित कराने भी निर्देश जारी किया गया है।

10 सैटेलाइट सीएनजी स्टेशन स्थापित किए जाएंगे

गेल के मुख्य महाप्रबंधक एसएन यादव ने बताया कि वाराणसी के आसपास करीब 10 सैटेलाइट सीएनजी स्टेशन स्थापित किए जाएंगे, जिससे संपूर्ण वाराणसी के साथ-साथ वाराणसी से सटे अन्य इलाकों को भी सीएनजी नेटवर्क में सम्मिलित कर लिया जाएगा। परियोजना इंचार्ज एनके द्विवेदी ने बताया कि इस सीएनजी स्टेशन के खुलने के साथ ही अब वाराणसी में एक लाख किलो सीएनजी  भरे जाने की क्षमता हो गई है। यानी लगभग 25000 वाहनों में प्रतिदिन सीएनजी भरी जा सकती है जबकि इसकी तुलना में मात्र 4000 वाहनों में ही फिलहाल सीएनजी भरी जा रही है। यह पूरी क्षमता का मात्र 20 फीसद ही है।

 

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस