मऊ, जेएनएन। बहुजन समाज पार्टी के पूर्व विधायक उमेशचंद्र पांडेय ने बहुजन समाज पार्टी से आखिरकार इस्तीफा दे दिया। शुक्रवार को उन्होंने अपना त्यागपत्र हाईकमान को भेज दिया है। दैनिक जागरण से बातचीत में उन्होंने बताया कि जब नीतियां विपरीत हो जाएं और नेता अपने सिद्धांतों से भटक जाएं तो कार्यकर्ता का दुखी होना स्वाभाविक होता है। बसपा के साथ भी ऐसा ही हुआ है। बसपा अपने मिशन से भटक गई है। पूज्य बाबा साहब डा.भीमराव आंबेडकर और मान्यवर कांशीराम के सिद्धांतों से बहुत दूर जा चुकी है यह पार्टी।

यहां कार्यकर्ता और उसके समर्पण का सम्मान नहीं, धन को वरीयता दी जाती है। इन सब स्थितियों -परिस्थितियों को देखते हुए पार्टी छोड़ देना ही बेहतर समझा। उन्होंने बताया कि आगामी 20 जनवरी को वे अपने हजारों समर्थकों के साथ लखनऊ में समाजवाटी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के समक्ष सपा में शामिल हो जाएंगे। वह लगातार दो बार बसपा के टिकट से मधुबन विधानसभा से विधायक रह चुके हैं। पहली बार 2007 में (तब नत्थूपुर विधानसभा था क्षेत्र का नाम) तो दूसरी बार वर्ष 2012 में। वर्ष 2017 में वे भाजपा के दारा सिंह चौहान से चुनाव हार गए थे।

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस