जागरण संवाददाता, चंदौली। धान खरीद को लेकर किसान व विभाग आमने-सामने आ गया है। डिप्टी आरएमओ अनूप कुमार श्रीवास्तव के साथ किसानों की ओर से दुर्व्यवहार को लेकर केंद्र प्रभारियों ने चंदौली समेत वाराणसी मंडल के चारों जिलों में गुरुवार को खरीद ठप कर दी। उधर धान खरीद न होने से नाराज किसानों ने मुख्यालय स्थित नवीन कृषि मंडी के सामने चक्काजाम कर दिया। इससे हाईवे पर वाहनों की कतार लग गई है। दोनों लेन पर वाहनों का आवागमन ठप हो गया है। सुरक्षा के मद्देनजर मौके पर पुलिस व पीएसी के जवान पहुंच गए हैं।

जिले में धान खरीद की रफ्तार काफी धीमी है। इसको लेकर किसानों का गुस्सा बुधवार को फूट पड़ा। मंडी समिति में डिप्टी आरएमओ का घेराव किया। उन्हें जमकर खरी-खोटी सुनाई।

इसके बाद डिप्टी आरएमओ सैयदराजा स्थित क्रय केंद्र का निरीक्षण करने पहुंचे थे। यहां भी किसान मुखर दिखे। आरोप है कि गाली-गलौच व दुर्व्यवहार किया गया। शासन स्तर से धान खरीद की गाइडलाइन में बार-बार बदलाव किए जाने से किसानों में नाराजगी दिखी। उनका कहना रहा कि अधिकारी धान खरीद में जमकर लापरवाही कर रहे हैं। केंद्र प्रभारी मनमानी कर रहे हैं। इससे परेशानी हो रही है। डिप्टी आरएमओ के साथ दुर्व्यवहार का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इसको लेकर खरीद एजेंसी व केंद्र प्रभारी लामबंद हो गए। गुरुवार को पूरे मंडल में धान खरीद ठप कर दी। 30 तारीख का आनलाइन टोकन निकालने वाले किसान मंडी समिति में अपना धान बेचने पहुंचे तो खरीद ठप होने की सूचना से भड़क गए।

दर्जनों की संख्या में किसानों ने मंडी के सामने नेशनल हाईवे पर जाम कर दिया। इस दौरान शासन-प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आरोप लगाया कि धान खरीद की मंशा नहीं है। इसलिए बेवजह किसानों को परेशान किया जा रहा है। ताकि मजबूरन उन्हें अपनी उपज बिचौलियों को बेचनी पड़े। अधिकारी बिचौलियों को लाभ पहुंचाने के लिए ऐसा कर रहे हैं। पूर्व विधायक व सपा महासचिव मनोज कुमार सिंह डब्ल्यू भी किसानों के समर्थन में डंटे रहे। मौके पर सुरक्षा के मद्देनजर फोर्स लगाई गई है।

गाजीपुर में धान तौल नहीं से किसानों ने किया हंगामा, पहुंचे तहसीलदार

गाजीपुर के दिलदारनगर मंडी समिति परिसर में खुले खाद एवं रसद तथा मंडी समिति के धान केंद्र पर गुरुवार को टोकन लिए किसानों का धान तौल नहीं होने से किसानों ने हंगामा किया।सूचना पाकर तहसीलदार सेवराई रामजी मंडी में पहुंचकर किसानों से वार्ता कर शुक्रवार से धान तौल कराने का अश्वाशन दिया।किसानों ने पानी से भींगे धान को दिखाया और केंद्र पर बिचौलियों का धान खरीदने का आरोप लगाया।

Edited By: Saurabh Chakravarty