वाराणसी, जेएनएन। कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआइसी) के 68वें स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में 10 मार्च तक आयोजित होने वाले विशेष सेवा पखवारे की शुरूआत सोमवार को हुई। चांदपुर स्थित औद्योगिक आस्थान में हेल्थ चेकअप कैंप का आयोजन हुआ जिसमें निगम के कर्मचारियों, व्यापारियों ने सहभागिता निभाई। कैंप में स्वास्थ्य कर्मचारियों की भूमिका अहम रही।

कार्यक्रम में निगम के प्रभारी उप निदेशक मनोज कुमार साव ने कर्मचारी राज्य बीमा अधिनियम के तहत कर्मचारियों के हित में संचालित योजनाओं के बारे में बताया। कहा कि बीमारी हितलाभ, मातृत्व हितलाभ, स्थायी अपंगता हितलाभ, अस्थाई अपंगता हितलाभ, आश्रित हितलाभ के प्रति लोगों को जागरूक किया जाए। कार्यक्रम में निगम के उप निदेशक शशि शेखर, पीके सिंह, सहायक निदेशक आलोक कुमार चौधरी, उद्यमी नीरज पारीख, राजेश भाटिया आदि मौजूद थे।

ईएसआइसी की पहल

  • अंत्येष्टि खर्च को 10 हजार रुपये से बढ़ाकर 15 हजार रुपये किया गया।
  •   कारावास लाभ को पांच हजार से बढ़ाकर 7500 रुपये किया गया।
  •   मासिक अंशदान की दर एक जुलाई 2019 से संशोधित किया गया, जिसमें कर्मचारियों को 1.75 से घटाकर 0.75 प्रतिशत तथा नियोक्ता का अंशदान 4.75 से घटाकर 3.25 प्रतिशत कर दिया गया है।
  •   एक जनवरी 2017 से उप क्षेत्रीय कार्यालय के अधीन सात जिलों को पूरी तरह से विस्तार किया गया है।
  • ऑनलाइन अंशदान जमा करने की तिथि को अंशदान अवधि समाप्त होने के 42 दिनों के भीतर जमा करने के लिए तथा कर्मचारियों का पंजीकरण नियुक्ति की तिथि से 10 दिन के भीतर पंजीयन अनिवार्य किया गया है।
  • स्थायी अपंगता हितलाभ व आश्रित हितलाभ की मासिक पेंशन में वृद्धि गई है।

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस