बलिया, जेएनएन। नगर पंचायत मनियर की ईओ मणिमंजरी राय के श्राद्धकर्म में शनिवार को उनके गांव गाजीपुर के कनुआन में हुआ। इसमें जिले से भी उनके समाज के लोग शामिल हुए। बलिया, बिहार सहित गाजीपुर के पहुंचे लोगों ने शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए मणिमंजरी को श्रद्वांजलि अर्पित की। सभी ने निष्पक्ष जांच की मांग की।

लोगों ने बलिया पुलिस की जांच पर सवाल खड़ा किए। इस मौके पर जनपद के किसी भी प्रशासनिक अधिकारी का नहीं पहुंचना लोगों के बीच चर्चा का विषय बना रहा। मणिमंजरी राय अपने गांव की पहली महिला पीसीसी अधिकारी थीं। वहीं उसके साथ के अन्य जनपदों में तैनात अधिकारी भी श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचे थे।

मणिमंजरी बचपन से पढऩे में काफी मेधावी थीं। इसी के बदौलत नवोदय विद्यालय सिंहाचवर, बलिया में पढ़ाई पूरी करने के बाद परिवार के सदस्य उसे आगे की पढ़ाई के लिए वाराणसी व दिल्ली भेजे थे। ग्रामीणों को इकलौती पीसीएस बेटी खोने का गम था। इस दौरान शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए लोग श्रद्धांजलि अर्पित किए। मणिमंजरी की गांव सहेलियों ने बताया कि वह एक मजबूत लड़की थीं, वह कभी इस तरह का कदम नहीं उठा सकती है। इस मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए। बलिया से उसके मामा अजीत मिश्रा समेत अन्य लोग गए हुए थे। ईओ के चाचा संजय राय ने कहा कि श्राद्ध कर्म से खाली होने के बाद पुलिस ने जांच सही नहीं किया तो कोर्ट का दरवाजा खटखटाया जाएगा। बता दें कि छह जुलाई की रात को आवास विकास कालोनी स्थित उसके फ्लैट में उसका शव पंखे से लटकता मिला था। इस घटना से हर कोई अवाक हो गया था।

नगर पंचायत कार्यालय का अभिलेख खंगालेगी समिति

मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय की मौत के मामले में नगर पंचायत से जुड़े अभिलेखों को खंगालने का कार्य 20 जुलाई से शुरू हो जाएगा। अपर पुलिस महानिदेशक व नोडल आधिकारी डॉ. सुनील गुप्ता ने भी इस मामले में विवेचना कार्य की प्रगति की जानकारी ली। गठित इस समिति में उप जिलाधिकारी बांसडीह, पुलिस उपाधीक्षक शहर व बलिया कोतवाली के प्रभारी हैं। बांसडीह के उप जिलाधिकारी ही मणि मंजरी की मौत के बाद मनियर नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी का अतिरिक्त प्रभार देख रहे हैं। प्रदेश शासन के निर्देश पर जिले में पहुंचे अपर पुलिस महानिदेशक, दूरसंचार डॉ. सुनील गुप्ता ने भी मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय की मौत के मामले में जानकारी ली। उन्होंने पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ से विवेचना में अब तक हुई प्रगति के बारे पूछताछ की।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस