सोनभद्र, जेएनएन। हाथियों का उत्‍पात सोनभद्र के साथ ही छत्‍तीसगढ़ आैर झारखंड में अब भी जारी है। पडा़ेसी राज्‍य छत्तीसगढ़ के गिरवानी के नवाटोला में गुरुवार को हाथी ने नौ वर्षीय बच्ची को मौत के घाट उतार दिया।घटनास्‍थल सोनभद्र के सीमावर्ती गांव शीशटोला का पड़ोसी गांव छत्‍तीसगढ़ का हिस्‍सा है वहां पर रात से ही जमे हाथियों के झुंड ने गांव में हमलाकर कई घरों को नुकसान पहुंचाने के साथ ही घर में घुस कर बेरहमी से बालिका काे रौंदकर मार डाला। इस दर्दनाक हादसे से क्षेत्र में सन्नाटा पसरा हुआ है।

मृतका देव कुवर (9) पुत्री अशर्फी कक्षा तीन की छात्रा है। वहीं हादसे की जानकारी होने के बाद मौके पर वन अधिकारी और पुलिस कर्मी भी पहुंचे और हाथियों को भगाने का प्रयास किया। क्षेत्र में हाथियों की गतिविधि काफी समय से बनी हुई है और हाथी फसलों के साथ ही कच्‍चे घरों को भी नुकसान पहुंचा रहे हैं। क्षेत्र में इससे पूर्व हाथियों का झुंड दो लोगों की हत्‍या कर चुका है। प्रशासन भी इन हाथियों को उनके स्थान पर जंगलों की ओर भगाने में अब तक असफल साबित हुआ है। 

क्षेत्र में वन विभाग की बहुत बड़ी लापरवाही देखने को मिल रही है जब हाथियों का आतंक क्षेत्र में है फिर भी वन विभाग लापरवाह नजर आ रहा है। वन विभाग की लापरवाही की वजह से ही इस नाबालिग छात्रा की जान गई है और पूरा परिवार वन विभाग की लापरवाही का खामियाजा भुगतने को मजबूर है। क्षेत्रवासियों को अलर्ट रखने का जिम्‍मा कोई नहीं निभा रहा है। वहीं हादसे के बाद एसडीओ फारेस्ट ने 25000 रुपये नगद मृतका के पिता को देने के साथ ही 575000 राशि देने का आश्वासन दिया है। 

Posted By: Abhishek Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस