बलिया, जागरण संवाददाता। जिले में राशन कार्ड में फर्जीवाड़ा आने से विभाग के होश उड़ गए हैं। इन कार्डों पर उपभोक्ता प्रतिमाह राशन भी उठा रहे हैं। पूर्ति विभाग की ओर से चलाए गए अभियान में जिले में 23,781 राशन कार्ड डुप्लीकेट मिले हैं। अब डुप्लीकेट राशन कार्ड को समाप्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। सबसे व्यापक पैमाने पर डुप्लीकेसी विकास खंड सीयर, बैरिया और मुरली छपरा ब्लॉक में मिली है। खाद्य एवं रसद आयुक्त ने बलिया समेत प्रदेश के कई जिलों को पत्र लिखा है। जिलाधिकारी को निर्देश मिला है कि राशन कार्ड की डुप्लीकेसी के संबंध में विशेष अभियान चलाया जाएा। घर-घर सत्यापन किया जाएगा। इन्हें समाप्त कर छूटे हुए पात्र लाभार्थियों को योजना में शामिल किया जाए।

ब्लाकों में मिले हैं राशन कार्ड : विशेष अभियान में हुए जांच के दौरान विकास खंड गड़वार में 1097, सोहांव में 1236, बेलहरी में 1064, हनुमानगंज में 1112, दुबहड़ में 1018, रसड़ा में 855, चिलकहर में 1213, नगरा में 1811, सीयर में 3230, पंदह में 1234, नवानगर में 1134, मनियर 962, बेरुआरबारी में 798, बांसडीह में 987, रेवती मस 980, मुरलीछपरा में 1630 व बैरिया में 2128 डुप्लीकेट राशन कार्ड मिले हैं। इसी तरह नगर निकायों में देखा जाए तो नगरपालिका बलिया में 639, नपा रसड़ा में 56, नपं सिकंदरपुर में 124, मनियर में 72, रेवती में 124, सहतवार में 86, बेल्थरा में 82, चितबड़ागांव में 109 डुप्लीकेट लाभार्थी मिले हैं।

इस तरह होगी जांच

- डुप्लीकेसी की जांच के लिए ब्लाक व निकाय वार जांच टीम गठित की जाएगी।

- जिला पूर्ति अधिकारी अपने पोर्टल लाग-इन से जनपद की डुप्लीकेसी रिपोर्ट डाउनलोड कर ब्लाक व निकायवार सूची जांच टीम को उपलब्ध कराएंगे।

- टीम राशन कार्डों की जांच लाभार्थियों तक पहुंचकर नियमानुसार करेगी।

- जांच टीम 15 दिनों के अंदर अपनी जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

- आधार कार्ड से कराया जाएगा मिलान।

बोले अधिकारी : शासन के निर्देश पर डुप्लीकेट कार्ड व यूनिट की जांच के लिए टीम का गठन किया जाएगा। शासन से सूची भी प्राप्त हो गई है। ऐसे कार्डधारकों का कार्ड निरस्त किया जाएगा।

-गोपाल कृष्ण पाण्डेय, जिला पूर्ति अधिकारी।

Edited By: Abhishek Sharma