वाराणसी, जेएनएन। दो दिनों से हो रही मूसलधार बारिश ने शहर को परेशानी में डाल दिया है। गली, सड़क, मकान, दुकान में पानी जमा होने से पब्लिक मुश्किल में आ गई है। सर्वाधिक दिक्कत निचले इलाके में घर बनाए लोगों को है। घरों में घुटने भर पानी जमा हो गया है जिससे उनके दैनिक जीवन पर पर असर पड़ा है। परेशानी के बीच रोजगार पर भी इसका असर पड़ा है। मुस्लिम इलाकों में दो दिनों से लूम का संचालन बंद हो गया है जिससे कारोबार प्रभावित हुआ है। बजरडीहा, सरैया, कोनिया आदि इलाके में दो दिनों से लूम बंद पड़े हैं।

- ड्रेनेज व्यवस्था ध्वस्त, सीवर चोक करोड़ों खर्च करने के बाद भी शहर की ड्रेनेज व्यवस्था ध्वस्त है। उधर, अधिकांश जगहों पर सीवर और ड्रेनेज की लाइन एक में होने के कारण जल निकासी और सीवर चोक की समस्या से शहरवासियों को पूरे दिन जूझना पड़ा।

- बारिश से पांडेयपुर में सड़क धंसी पाडेयपुर, नदेसर में पेयजल और सीवर की लाइनों में प्रेशर के चलते सड़क धंस गई। महापौर मृदुला जायसवाल ने नगर निगम व जलकल के अफसरों को जलजमाव व सीवर से निजात दिलाने के लिए युद्ध स्तर पर काम करने का निर्देश दिया है। जहा जलजमाव है वहा पंपिंग सेट की मदद लेने को कहा है। कहना था कि नालियों को साफ कराएं ताकि ड्रेनेज व्यवस्था सही हो।

- इन इलाकों में जलजमाव कमलगढ़हा, शुकुलपुरा, दारानगर, नाटी इमली-ईश्वरगंगी, भोजूबीर, नटियानाई, शिवाला, भेलूपुर, विनायका, सामनेघाट, कमच्छा, रवींद्रपुरी, गौरीगंज, विजयानगरम, लहरतारा, चौकाघाट, शिवपुरवा, खजुरी, पाडेयपुर, नई बस्ती, हुकुलगंज, तेलियाबाग, कोनिया, काजीपुरा, बजरडीहा, सरैया, गुरुबाग, गिरिजाघर, नई सड़क, इंग्लिशिया लाइन, कैंट।

- जाम से मिनटों की दूरी घंटों में बरसात से निचले इलाके में पानी भरने से सोमवार को पूरे शहर को जाम झेलना पड़ा। लंका से लेकर डीएलडब्ल्यू, मंडुआडीह तक लोग घंटों जाम में फंसे रहे। वहीं सिगरा, मलदहिया, नदेसर, लहुराबीर से मैदागिन, गोदौलिया होते हुए जंगमबाड़ी व लंका तक जाम लगा रहा। भेलूपुर, कमच्छा, गिरिजाघर से लेकर लक्सा, रथयात्रा, महमूरगंज, सिगरा, इंग्लिशिया लाइन, कैंट तक जाम लगा रहा।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप